Advertisement

कोरोना रोकने के लिहाज से स्वास्थ्य मंत्री ने चेताया, कहा: 'आने वाले दो दिनों में लेंगे कड़क फैसला'

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) पहले भी कह चुके हैं कि, अगर लोगों ने कोरोना प्रोटोकॉल (Corona protocol) को फॉलो नहीं किया तो लोगों को फिर से लॉकडाउन (lockdown) का सामना करना पड़ सकता है।

कोरोना रोकने के लिहाज से स्वास्थ्य मंत्री ने चेताया, कहा: 'आने वाले दो दिनों में लेंगे कड़क फैसला'
SHARES

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए सरकार सख्त रुख अपनाने की तैयारी कर रही है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) पहले भी कह चुके हैं कि, अगर लोगों ने कोरोना प्रोटोकॉल (Corona protocol) को फॉलो नहीं किया तो लोगों को फिर से लॉकडाउन (lockdown) का सामना करना पड़ सकता है।

अब राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (health minister rajesh tope) ने भी कहा है कि, कोरोना के केस जिस तरह से बढ़ रहे हैं, उसे देखते हुए अगले दो दिनों में कड़ा निर्णय लिया जा सकता है।

राजेश टोपे (rajesh tope) ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि राज्य में दिवाली की खरीददारी के लिए बाजारों में भारी भीड़ जुटी। यह भीड़ अभी भी कम नहीं हो रही है। चौक, पर्यटन स्थलों, सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ जुटने के कारण कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ रहा है। अधिकांश लोग न तो मास्क (mask) लगा रहे हैं और न ही सामाजिक दूरी का पालन नहीं कर रहे हैं। इसे देखकर लगता है कि लोग कोरोना (Ckvid19) को लेकर गंभीर नहीं हैं। और यही लापरवाही खुद के साथ दूसरों के लिए भी गंभीर समस्या पैदा कर ही है। महाराष्ट्र में कोरोना की दूसरी लहर आने की संभावना जताई जा रही है। इस तरह की गैरजिम्मेदाराना रवैये सेे लोग गंभीर परिणाम भुगत सकते हैं।

इस स्थिति को देखते हुए, राज्य सरकार अभी सभी के लिए लोकल रेल सेवा शुरू करने के पक्ष में नहीं है। इसके अलावा स्कूलों और कॉलेजों में कोरोना पर प्रतिबंध लगाने संबंधी उपाय योजना करने, सार्वजनिक स्थानों पर यात्रा करने पर नियमों का पालन करने, शादियों अथवा अन्य समारोहों में शामिल होने के लिए 50 लोगों को ही अनुमति देने, मास्क न पहनने पर अधिक दंड लगाने संबंधी जैसे अन्य उपाय किए जाने चाहिए। इस बाबत मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) और अन्य संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक जल्द ही की जाएगी।

टोपे ने कहा, अगले दो दिनों में मुख्यमंत्री के साथ बैठक के बाद इस संबंध में निर्णय लिया जाएगा उन्होंने कहा, हालांकि राज्य में 100 फीसदी लॉकडाउन फिर से लागू नहीं किया जाएगा, लेकिन जो ढील दी जा रही है उस पर कड़ाई बरती जाएगी।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें