बिजली के बढ़ते बिल को लेकर संजय निरुपम और आशिष शेलार आमने सामने!

मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम ने एमईआरसी और अदानी इलेक्ट्रिकिटी मुंबई लिमिटेड के बीच गठबंधन का आरोप लगाया है

SHARE

मुंबई में बिजली बिल का मुद्दा गरमाता जा रहा है। मुंबई बीजेपी अध्यक्ष आशीष शेलर ने सोमवार को महाराष्ट्र ऊर्जा मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले से मुलाकात की और इस मामले में दखल देने की मांग की। मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बढ़ी हुई शिकायतों को देखते हुए पहले ही इस मामले में जांच के आदेश दे दिये है।

उर्जा मंत्री से दखल की मांग

शेलार ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि इस मुद्दे को हल करने के लिए ऊर्जा मंत्री एमईआरसी के साथ बात करेंगे। शेलार का कहना है की बिजली के बढ़ते बिलों को लेकर उनके पास कई तरह की शिकायतें आई है लिहाजा उन्होने इस मुद्दे पर उर्जा मंत्री से मिलकर इस मामले में दखल देने की बात कही है।

शेलार ने जोर देकर कहा कि एमईआरसी को इस मुद्दे को हल करने के लिए कदम उठाने चाहिए। इससे पहले, मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरुपम ने आरोप लगाया था की अदानी ट्रांसमिशन ने रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर से शहर के बिजली वितरण कारोबार को संभालने के बाद बिजली बिलों में वृद्धि की। अदानी इलेक्ट्रिकिटी मुंबई लिमिटेड (एईएमएल) ने आरोपों से इंकार कर दिया और कहा कि दरों में वृद्धि महाराष्ट्र विद्युत विनियामक आयोग (एमईआरसी) के अनुसार है।

हालांकि, निरुपम ने सीएम फडणवीस द्वारा आदेशित जांच को खारिज कर दिया और एमईआरसी और एईएमएल के बीच गठबंधन का आरोप लगाया कि इस मामले में न्यायिक जांच की जानी चाहिए।


यह भी पढ़ेलगातार घट रहे पेट्रोल और डीजल के दाम

संबंधित विषय