Advertisement

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद को मुंबई पुलिस ने नही दी रैली की इजाजत

रैली मुंबई के आजाद मैदान में 21 फरवरी को होने वाली थी

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद को मुंबई पुलिस ने नही दी रैली की इजाजत
SHARES

21 फरवरी को मुंबई के आजाद मैदान में होनेवाली  भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद की रैली को मुंबई पुलिस ने इजाजत देने से मना कर दिया है। भीम आर्मी(Bhim Army) चीफ चंद्रशेखर आजाद (Chandrashekar Azad) को महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई(Mumbai) में रैली की इजाजत नहीं दी है। चंद्रशेखर की ये रैली नागरिकता संशोधन कानून/सीएए (CAA), नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन/एनआरसी (NRC) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) के खिलाफ होने वाली थी ये रैली मुंबई के आजाद मैदान में 21 फरवरी को होने वाली थी।


कानून व्यवस्था(law) का हवाला देकर इसकी इजाजत नहीं दी गई। बता दें कि चंद्रशेखर को जामा मस्जिद(jama masjid) के पास हुई रैली के बाद दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद उन्हें कोर्ट (court) से सशर्त जमानत(conditional bail)  मिली थी। उन्होंने जमानत पर बाहर आने के बाद कहा था कि वह सीएए और एनआरसी (NRC) के खिलाफ आवाज उठाते रहेंगे और देश में दिल्ली की तर्ज पर दूसरे शहरों में शाहीन बाग जैसे और धरने प्रदर्शन आयोजित करेंगे।देशभर में नागरिकता संशोधन कानून का विरोध अभी तक थमा नहीं है। 


इस कानून को हटाने की मांग करने वाले प्रदर्शनों का सिलसिला जारी रखे हुए हैं। दिल्ली के शाहीन बाग(shaheen baugh) में 15 दिसंबर 2019 से ही धरना-प्रदर्शन चल रहा है। मामला सुप्रीम कोर्ट (supreme court) तक भी पहुंचा। चंद्रशेखर जनवरी में हैदराबाद में भी एक CAA विरोधी रैली को संबोधित करने जा रहे थे, लेकिन ऐन वक्त पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। चंद्रशेखर ने मोदी सरकार से कहा है कि देश भर में जल्द ही 5,000 शाहीन बाग खड़े होंगे जहां से कानून को वापस लेने के लिये मांग की जाएगी। 

संबंधित विषय