Advertisement

आखिर उद्धव ठाकरे क्यों नहीं निकलते घर से....? शरद पवार ने बताया कारण

इस बारे में पूछे जाने पर, शरद पवार ने कहा कि जिनके ऊपर प्रशासन की जिम्मेदारी होती हैं उन्हें कई मौकों पर एक साथ निर्णय लेने होते हैं, और इसके लिए उन्हें कार्यालय में रह कर संबंधित अधिकारियों से सारी जानकारी लेनी होती है।

आखिर उद्धव ठाकरे क्यों नहीं निकलते घर से....? शरद पवार ने बताया कारण
SHARES

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Maharashtra cm uddhav thackeray) पर बिपक्षी दल अक्सर यह आरोप लगाते हैं कि, महाराष्ट्र में इतने बड़े बड़े संकट आए, चाहे कोरोना (Coronavirus) हो, बाढ़ हो या अन्य कोई समस्या हो, उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) घर से बाहर ही नहीं निकलते, वे लोगों के बीच नहीं जाते, केवल जब देखो तब केवल फेसबुक (facebook live) लाइव ही करते रहते हैं। अब इस प्रश्न का उत्तर शिवसेना (shiv sena)  की सहयोगी पार्टी NCP के अध्यक्ष शरद पवार (sharad pawar) ने दिया है।

इस बारे में पूछे जाने पर, शरद पवार ने कहा कि जिनके ऊपर प्रशासन की जिम्मेदारी होती हैं उन्हें कई मौकों पर एक साथ निर्णय लेने होते हैं, और  इसके लिए उन्हें कार्यालय में रह कर संबंधित अधिकारियों से सारी जानकारी लेनी होती है।

कोरोना (Covid-19) के काल के दौरान, हम सभी ने ही मुख्यमंत्री से घर पर ही रह कर सभी ने का अनुरोध किया था। जिलों के साथ संपर्क में रहने का अनुरोध किया था। हमारे ही आग्रह पर मुख्यमंत्री ने इसे स्वीकार किया। और हम सभी राज्य में घूम कर सारी स्थिति से तो उन्हें अवगत कराते ही हैं।

आपको बता दें कि, इसी बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पश्चिमी महाराष्ट्र और मराठवाड़ा में दो दिवसीय दौरा 19 अक्टूबर से शुरू होने वाला है।इसके साथ ही सोलापुर में बारिश से हुए नुकसान का भी जायजा लेंगे।

और वे 20 अक्टूबर को मराठवाड़ा का भी दौरा करगें। इस दौरान क्या मुख्यमंत्री बाढ़ प्रभावित इलाकों में किसानों के लिए कोई आर्थिक पैकेज की घोषणा करेंगे, इस पर सभी का ध्यान रहेगा।

कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए तालाबंदी से आम जनता प्रभावित हुई। कइयों को समय पर चिकित्सा उपचार नहीं मिल पा रहा था, ऐसी स्थिति में, मुख्यमंत्री फेसबुक लाइव के माध्यम से लोगों से लगातार बातचीत कर रहे थे, विभिन्न प्रशासनिक विभागों की समीक्षा कर रहे थे। इस पर विपक्ष ने उन पर घर से बाहर नहीं निकलने का आरोप लगाया।

जबकि विधानसभा में विरोधी पक्ष के नेता देेवेंद्र फडणवीस (devendra fadnavis) और विधान परिषद में विरोधी पक्ष के नेता प्रवीण दरेकर (pravin darekar) सहित शरद पवार और काँग्रेस, NCP के अन्य नेता बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों में गए, आर्थिक नुकसान झेल रहे किसानों से मिले। इन सभी बातों को लेकर मुख्यमंत्री पर यह आरोप लगा कि वे मुश्किल समय में घर से बाहर नहीं निकलते।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
Advertisement