Advertisement

हे 'राम' यह क्या कह दिया...


हे 'राम' यह क्या कह दिया...
SHARES


भारतीय जनता पार्टी के विधायक राम कदम को दही हांडी उत्सव में सार्वजनिक रूप से एक बयान देना भारी पड़ गया। उनका यह बयान अब वायरल हो रहा है। इस बयाने के विरोध में  एनसीपी विधायक जितेंद्र आव्हाड ने तो राम कदम को बीजेपी का रावणी चेहरा तक करार कर दिया है।

क्या कहा कदम ने?

दरअसल राम कदम मुंबई की घाटकोपर पश्चिम विधानसभा सीट से विधायक हैं और हर साल बड़े स्तर पर दही हांड़ी का आयोजन करते हैं। इस बार भी उन्होंने आयोजन किया था, जहां बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। उन्होंने पता नहीं क्या सोच कर कहा कि एक लड़के ने मुझसे कहा कि साहब, मैंने उसे प्रपोज किया है लेकिन वह इनकार कर रही है, प्लीज मदद करो। तो मैंने कहा ठीक है, सौ प्रतिशत मदद करूंगा। अपने माता-पिता को लेकर मेरे पास आओ, अगर उन्होंने कहा कि लड़की पसंद है तो लड़की को भगाकर लाकर तुम्हें दूंगा। लड़की को भगाने में तुम्हारी मदद करूंगा। मेरा फोन नंबर लो और मुझसे संपर्क करो।

कांग्रेस भी हमलावर 

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सांसद अशोक चव्हाण ने भी हमला बोलते हुए कहा कि एक तरफ प्रधानमंत्री 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ का नारा देते हैं तो वहीं दूसरी उनकी पार्टी के विधायक युवकों को लड़की भगाने में मदद का ऑफर दे रहे हैं।

'राजनीतिक फायदा उठाने की कोशिश'

मामला तूल पकड़ने के बाद राम कदम ने सफाई देते हुए कहा 'मेरे कहने का यह मतलब नहीं था कि किसी का दिल दुखाऊं, उस वक्त माहौल हल्का-फुल्का था। कुछ राजनीतिक दल इस बयान से राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश कर रहे हैं।

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें