SHARE

पुणे के भीमा कोरेगांव में हुई हिंसा का असर मंत्रालय में भी देखने को मिला। मंत्रालय में स्थित सीएम देवेंद्र फडणवीस के कार्यालय के बाहर ही एनसीपी के कार्यकर्ताओं ने सीएम मुर्दाबाद के नारे लगाए।


मंत्रालय में नारेबाजी

मंत्रालय में शाम के लगभग 5:30 बजे उस समउ हड़कम्प मच गया जब एनसीपी के 8 से 10 कार्यकर्ताओं ने छठवें फ्लोर पर स्थित मुख्यमंत्री के कार्यालय के बाहर जमा होकर मुख्यमंत्री और सरकार के विरोध में हाथ में बैनर और पोस्टर लेकर जोरदार नारेबाजी करने लगे। यह देख पुलिस के हाथ पांव फूल गए। सभी को मरीन ड्राइव पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया।  


यह भी पढ़ें : Live Update: भीमा कोरेगांव हिंसा रोड ट्रैफिक और विरोध प्रदर्शनों के साथ पहुंची मुंबई


'दलित विरोधी मुख्यमंत्री'

यह सभी एनसीपी के कार्यकर्ता थे जो दलित विरोधी मुख्यमंत्री चले जाओ मुख्यमंत्री मुर्दाबाद, डाॅ. बाबासाहेब आंबेडकर की जय नारे लगा रहे थे। पुलिस सभी को हिरासत में लेकर आगे की कार्रवाई कर रही है।


यह भी पढ़ें : पुणे हिंसा : पथराव से बेस्ट की 20 बसों को हुआ नुकसान, एसटी की 134 बसों में भी तोड़फोड़


सुरक्षा पर उठे सवाल

मंत्रालय के अंदर इस तरह की नारेबाजी करने से एक बार फिर सुरक्षा को लेकर सवाल उठे हैं। मुख्यमंत्री सहित कई मंत्रियों और विधायकों के साथ-साथ आला अधिकारियों का यहां रोज आना जाना होता है। सुरक्षा के लिहाज से मंत्रालय बेहद ही संवेदनशील माना जाता है। इस तरह से कुछ लोगों का मिलकर मुख्यमंत्री के कार्यालय के सामने नारेबाजी करना सुरक्षा में बड़ी खामी कही जा सकती है।





संबंधित विषय
ताजा ख़बरें