डॉक्टरों की हड़ताल पर स्थायी समिति में घिरी शिवसेना

    BMC
    डॉक्टरों की हड़ताल पर स्थायी समिति में घिरी शिवसेना
    मुंबई  -  

    मुंबई - मुंबई में बीएमसी के अस्पतालों में डॉक्टरों की हड़ताल के चलते मरीजों का हाल बेहाल है। यहां तक कि सरकार और न्यायालय भी इस मामले में दखल दे चुके हैं, लेकिन अभी तक बीएमसी की स्थायी समिति ने इस मामले में गंभीरता नहीं दिखाई है। उसकी ओर से किसी प्रकार की पहल अभी तक देखने को नहीं मिली है।

    गुरुवार को स्थायी समिति की बैठक में 14 विषयों के कामकाज पर चर्चा के बाद अध्यक्ष ने स्थापत्य समिति चुनाव 12 बजे होने के चलते बैठक त्वरित स्थगित कर दी, लेकिन भाजपा के गटनेता मनोज कोटक और प्रभाकर शिंदे ने इसमें पहल की। उन्होंने डॉक्टरों की हड़ताल को खत्म करने के लिए प्रशासन द्वारा निवेदन करने की मांग उठाई।

    वहीं प्रभाकर शिंदें ने कहा कि सरकार और न्यायालय में डॉक्टरों की हड़ताल खत्म करने के लिए हस्तक्षेप किया लेकिन महापालिका आयुक्त इस समिति में कुछ नहीं बोल रहे। कांग्रेस गटनेता रवी राजा ने कहा कि हड़ताल से अस्पतालों में 260 बड़े और छोटे ऑपरेशन रुके हुए हैं। 58 लोगों की मौत हो चुकी है। जिसके बाद सभागृह नेता यशवंत जाधव ने डॉक्टरों की हड़ताल समाप्त होने तक स्थायी समिति की बैठक नहीं होने देने का इशारा दिया।

    Loading Comments

    संबंधित ख़बरें

    © 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.