शिवसेना के 56 विधायकों में से 35 पार्टी नेतृत्व से असंतुष्ट – नारायण राणे

उन्होंने विश्वास जताया कि भाजपा महाराष्ट्र में सत्ता में जरूर लौटेगी।

SHARE

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे ने एक बार फिर से राज्य की शिवसेना सरकार पर निशाना साधा है।  नारायण राणे ने दावा किया है कि राज्य में शिवसेना के 56 विधायकों में से 35 पार्टी नेतृत्व से असंतुष्ट हैं। उन्होंने विश्वास जताया कि भाजपा महाराष्ट्र में सत्ता में जरूर लौटेगी।राणे ने दावा किया है कि ये सभी विधायक अपनी पार्टी के नेतृत्व से संतुष्ट नहीं है, जिसकी वजह से ये विधायकों में रोष है। बता दें कि नारायण राणे मौजूदा समय में भाजपा के कोटे से राज्यसभा सांसद हैं।

भाजपा के पास 105 विधायक

नारायण राणे ने क उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाली सरकार को ‘नकारा’ सरकार करार दिया और कहा कि शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस ने राज्य में सरकार बनाने में पांच सप्ताह से अधिक समय लिया। उन्होंने कहा कि भाजपा के पास 105 विधायक हैं तथा शिवसेना के पास महज 56 और उसमें भी 35 असंतुष्ट हैं। राणे ने यह भी कहा कि किसानों का ऋण माफ करने का ठाकरे सरकार का वादा भी खोखला है क्योंकि इस बात की कोई समय सीमा नहीं है कि इसे कब लागू किया जाएगा।

हालांकी ककुछ दिनों पहले बीजेपी के देवेंद्र फड़णवीस और मनसे प्रमुख राज ठाकरे के बीच हुए मुलाकात पर उन्होने कुछ भी कहने से मना कर दिया और कहा की भाजपा प्रमुख ही इस पर कुछ कहेंगे।

यह भी पढ़े- महाराष्ट्र विकास अघाड़ी सरकार 'ब्रह्मा, विष्णु, महेश' की तरह – विधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें