रेलवे भर्ती को लेकर राज ठाकरे फिर आक्रामक ,किसी भी बाहरी को ना शामिल होने की दी चेतावनी

मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने अपने कार्यकर्ताओ से कहा है की वह इस बात पर खास ध्यान रखे की राज्य में होनेवाले रेलवे भर्ती परिक्षा में कोई भी बाहरी शामिल ना होने पाए

SHARE

राज्य में होनेवाले रेलवे भर्ती परिक्षा को लेकर मनसे प्रमुख राज ठाकरे एक बार फिर से आक्रामक होते दिख रहे है। मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने अपने कार्यकर्ताओ से कहा है की वह इस बात पर खास ध्यान रखे की राज्य में होनेवाले रेलवे भर्ती परिक्षा में कोई भी बाहरी शामिल ना होने पाए। राज ठाकरे का कहना है की आने वाले समय में बड़ी संख्या में भर्तियां होंगी।

राज ठाकरे ने अपने कार्यकर्ताओं को महाराष्ट्र के उन लोगों पर नज़र रखने का निर्देश दिया है जो राज्य से बाहर से आकर इन भर्तिय़ों में शामिल होते है और स्थानिय मराठी लोगों की नौकरियों पर अपना कब्जा जमाते है। कुछ दिन पहले रेल मंत्री पीयूष गोयल ने घोषणा की कि इस साल रेलवे में हजारों पदों के लिए भर्ती की जाएगी।

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने फेसबुक पर पोस्ट करते हुए कहा की 'महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने 2008 में रेलवे भर्ती में मराठी बच्चों के साथ हुए अन्याय के खिलाफ एक बड़ा आंदोलन किया था, उस विरोध का नतीजा यह हुआ कि रेलवे भर्ती परीक्षाओं के विज्ञापन स्थानीय अखबारों में आने लगे और यह राज्य की स्थानीय भाषा में भी परीक्षा ली जाने लगी , इसके साथ ही नौकरी चुनने के लिए स्थानीय भाषा का आना भी अनिवार्य कर दिया गया। यह महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के आंदोलन की जीत थी"।

यह भी पढ़ेमनसे 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेगी

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें