Advertisement

मराठा आरक्षण पर राणे का 'यलगार'


मराठा आरक्षण पर राणे का 'यलगार'
SHARES

मुंबई - नारायण राणे ने मराठा आरक्षण नहीं मिलने पर राज्य सरकार को परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहने को कहा है। कांग्रेस प्रदेश मुख्यालय में आयोजित पत्रकार परिषद में राणे ने कहा कि मराठा आरक्षण को लेकर शिवसेना-भाजपा सरकार गंभीर नहीं है। उसे मराठा समाज की भावना का जरा भी ध्यान नहीं है। राणे ने कहा कि भाजपा-शिवसेना स्वार्थ के लिए मराठा मोर्चे का समर्थन कर रहे हैं। लेकिन आरक्षण दिलाने की उनकी कोई इच्छा नहीं है। सरकार धारा 15(अ) और 16(4) के अनुसार विचार नहीं कर रही है। शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे पर निशाना साधते हुए राणे बोले कि उद्धव ठाकरे ने मराठा मोर्च पर सामना में छपे व्यंग्य चिंत्र को लेकर भारी विरोध के चलते माफी मांगी है जिसमें उनका स्वार्थ छिपा है। वहीं मराठा आरक्षण पर मनसे प्रमुख राज ठाकरे की भूमिका पर सवाल उठाते हुए राणे ने राज ठाकरे की जमकर खिल्ली उड़ाई।

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
Advertisement