फिर दिखी कामत- निरुपम की जंग

मुंबई - कांग्रेस की आपसी गुटबाजी किसी से छुपी नहीं है । समय-समय पर ये गुटबाजी आम जनता के सामने भी आ जाती है। ताजा मामला है कांग्रेस द्वारा विलेपार्ले में आयोजित किए गए कोकण महोत्सव का। ये महोत्सव हुआ तो था कोकण में रहनेवाले लोगों की समस्याओं को लेकर, लेकिन इस महोत्सव में संजय निरुपम और गुरुदास कामत की आपसी खींचतान देखने को मिली। कामत ने निरुपम पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने दोबारा मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष पद लेने से मना कर दिया था।

तो वही संजय निरुपम ने भी कामत पर पलटवार करते हुए कहा कि वो लोगों से मिलते हैं , गली-गली जाकर पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात करते हैं पार्टी के लिए काम करते हैं।

इस कार्यक्रम में निरुपम और कामत के अलावा नारायण राणे, भाई जगताप सहित कई कांग्रेसी नेता मौजूद थे।

Loading Comments