मुंबई में एक सीट और मुंबई के बाहर एक सीट मुझे दे दो- रामदास आठवले

शिवसेना-बीजेपी गठबंधन के बाद से एक भी सीट नहीं मिलने से नाराज रामदास आठवले पिछले कुछ दिनों से ही बगावती तेवर अपनाएं हुए हैं। वे कभी राजग छोड़ने की तो कभी भारी नुकसान पहुंचाने की धमकी देते रहे हैं।

SHARE

बीजेपी-शिवसेना गठबंधन में सीट नहीं मिलने से परेशान रामदास आठवले के तेवर अब नरम पड़ते दिख रहे हैं रामदास आठवले ने कहा कि वे राजग (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन) का हिस्सा बने रहेंगे, लेकिन वो यह भी कहने से नहीं चुके कि उन्हें महाराष्ट्र में शिवसेना-बीजेपी गठबंधन से दो सीटें चाहिए।

शिवसेना-बीजेपी गठबंधन के बाद से एक भी सीट नहीं मिलने से नाराज रामदास आठवले पिछले कुछ दिनों से ही बगावती तेवर अपनाएं हुए हैं वे कभी राजग छोड़ने की तो कभी भारी नुकसान पहुंचाने की धमकी देते रहे हैं लेकिन अब आठवले के तेवर थोड़े नरम पड़ते दिखाई दे रहे हैं

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होने कहा कि, 'हम पहले से ही एनडीए के साथ थे और अभी भी एनडीए के साथ रहेंगे। लेकिन उन्होंने आगे यह भी जोड़ा कि हमारी मांग हैं कि आरपीआई को महाराष्ट्र में दो सीटें दी जाएं। हमें एक सीट मुंबई में और एक मुंबई के बाहर चाहिए।   

इसके पहले उन्होंने यह भी कहा था कि, मुझे लगता है कि बीजेपी के लिए मैं अब किसी मतलब का नहीं रहा। मैं एनडीए से अलग नहीं हो रहा हूं, लेकिन 25 फरवरी को आगे भविष्य के बारे में फैसला करुंगा।'

आपको बता दें कि आने वाले लोकसभा और विधानसभा चुनावों के लिए बीजेपी और शिवसेना ने गठबंधन कर लिया है जिसके अंतर्गत महाराष्ट्र की कुल 48 लोकसभा सीटों में शिवसेना को 23 और बीजेपी को 25 सीटें मिली हैं। जबकी विधानसभा चुनाव में दोनों पार्टियां ने आधी-आधी सीट पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें