'मुंबई के 10 लाख झोपड़ों पर खतरा'

    Fort
    'मुंबई के 10 लाख झोपड़ों पर खतरा'
    मुंबई  -  

    सीएसटी - केंद्र सरकार की जमीन पर बसे 10 लाख झोपड़ों को जमींदोज करने का प्रयास सत्ताधारी शिवसेना और भाजपा द्वारा किया जा रहा है। ये आरोप लगाया है मुंबई कांग्रेस के प्रवक्ता राजू वाघमारे ने। केंद्र सरकार की जगह पर 10 लाख झोपड़ों को वर्ष 2000 के बाद संरक्षण देन के लिए आघाडी सरकार ने नियम बनाया था, लेकिन भाजपा शिवसेना सरकार 10 लाख झोपड़ों का खाली करा कर उन झोपड़पट्टीधारकों को वहां से हटाने का प्रयास कर रही है। इस जगह को प्राइवेट बिल्डरों को देने का प्रयत्न किया जा रहा है। जिससे मुंबई के 50 लाख लोगों के सिर से घर का साया उठने का खतरा मंडरा रहा है।

    राजू वाघमारे ने कहा कि जोगेश्वरी पूर्व के इंदिरानगर रहिवासी संघ रेलवे परिसर की झोपडपट्टी को जमींदोज किया जाना है। इस झोपडपट्टी में सवा दो सौ झोपड़ों को वर्ष 2000 में रेलवे ने तोड़ने का आदेश दिया था। उस वक्त शिवसेनाप्रमुख उद्धव ठाकरे ने झोपड़पट्टी नहीं तोड़ने देने का आश्वासन दिया था। उनके राज्यमंत्री रवींद्र वायकर इन झोपडपट्टीधारकों को बहका रहे हैं। जिसके चलते मुंबई के 10 लाख झोपड़ों पर खतरा मंडरा रहा है।

    Loading Comments

    संबंधित ख़बरें

    © 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.