23 साल का छात्र बना नगरसेवक

बोरीवली - शिवसेना ने एक 23 साल के एमबीए के छात्र को नगरसेवक के चुनाव में मौका दिया था। आज यह छात्र नगरसेवक का चुनाव जीत गया है। जहां वह खुश है वहीं उसके कॉलेज के मित्र और कॉलेज के टीचर भी खुश हैं।

शिवसेना ने वॉर्ड क्रमांक 6 से बीएमसी चुनाव में 23 साल के एक तेज तर्राट छात्र हर्षद कारकर को अपना उम्मीदवार बनाया था। जिसने चुनाव जीत लिया है। बीएमसी चुनाव जीतने वालों में सबसे कम उम्र का यह नगरसेवक बन गए हैं। हर्षद सेंट फ्रेंसिस इंस्टिट्यूट बोरीवली पश्चिम में एमबीए का लास्ट ईयर के छात्र हैं। हर्षद अपनी इस जीत से काफी खुश हैं। सबसे पहले अपनी स्लम एरिया जहां वे रहते है छात्रों के पढ़ने के लिए एक अच्छी लाइब्रेरी बनाना चाहते है, जिससे स्लम के लड़के भी पढ़ने में कमजोर ना रहें। वही सेंट फ्रेंसिस इंस्टिट्यूट के डॉक्टर जी रमेश का कहना है कि हर्षद एक होनहार छात्र है। और पढाई में भी अच्छा है।

Loading Comments