शिवसेना दशहरा रैली - उद्धव ठाकरे 25 नवंबर को अयोध्या जाएंगे

शिवसेना ने महाराष्ट्र में अपने सहयोगी बीजेपी के खिलाफ आगामी चुनावों के लिए अपना राजनीतिक अभियान शुरू कर दिया है।

SHARE

अगले साल महाराष्ट्र विधानसभा और लोकसभा चुनाव को देखते हुए गे, शिवसेना ने दशहरा के मौके पर अपना राजनीतिक अभियान शुरू कर दिया है और इसके साथ ही बीजेपी के खिलाफ भी उद्धव ठाकरे ने मोर्चा खोल दिया है।
25 नवंबर को अयोध्या जाएंगे

दशहर मेलावा में पार्टी कार्यकर्ताओ को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा की वो 25 नवंबर को अयोध्या जाएंगे। ठाकरे ने बीडेपी पर भी निशाना साधते हुए कहा की "बीजेपी ने राम मंदिर बनाने का वादा किया लेकिन इसके बारे में बहुत कुछ नहीं किया है। ऐसा करने के लिए इच्छाशक्ति की जरूरत है और शिवसेना की ताकत है।शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने शिवाजी पार्क में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि वह भगवा ध्वज के साथ 25 नवंबर को अयोध्या जाएंगे।

डीएनए पर उठाया सवाल
इससे पहले 2014 में, विवादित भूमि पर अयोध्या में राम मंदिर बनाने का वादा करने के बाद प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी सत्ता में आए। राम मंदिर बनाने में सक्षम नहीं होने के कारण सत्तारूढ़ दल की आलोचना करते हुए शिवसेना प्रमुख ने कहा कि उनके डीएनए में कोई समस्या है।ठाकरे ने आगे कहा, "प्रधान मंत्री मोदी दुनिया भर में हर जगह घूमते हैं लेकिन अयोध्या और राज्य से जहां वे चुने गए हैं, वहां नहीं जाते।"


MeToo की किया समर्थन
MeToo मूवमेंट के समर्थन में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि इन आरोपों की कायदे से जांच होनी चाहिए. उन्होंने महिलाओं से अपील की है कि वह आगे बढ़ें और ऐसे 'पुरुषों को थप्पड़ मारें.'

कार्यकर्ताओं से चुनावों के लिए तैयार रहने को कहा
उद्धव ठाकरे ने कहा की देश में '2014 जैसी लहर' नहीं है भाजपा ने 2014 में अपनी चुनावी जीत का श्रेय 'मोदी लहर' को दिया था ठाकरे ने शिवसेना कार्यकर्ताओं से चुनावों के लिए तैयार रहने को कहा इसी साल हुए पार्टी के सम्मेलन में शिवसेना ने घोषणा की थी वह भविष्य में होने वाले चुनाव अकेले लड़ेगी

यह भी पढ़ेनाना पाटेकर के बचाव में उतरे राज ठाकरे, मी टू अभियान को बताया ध्यान भटकाने का अभियान

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें