चुनाव प्रचार के दौरान शिवसेना उम्मीदवार अरविंद सावंत को झेलनी पड़ी लोगों की नाराजगी

बीडीडी चॉल में रहनेवाले कुछ लोगों ने रिडेवलपमेंट के मुद्दे पर अरविंद सावंत से अपनी नाराजगी जाहीर की

SHARE

चुनाव प्रचार के दौरान दक्षिण मुंबई से शिवसेना उम्मीदवार अरविंद सावंत पर बीडीडी चॉल में रहनेवाले कुछ लोगों ने अपनी नाराजगी जाहीर की। इन इलाको में बोर्ड भी लगा हुआ है की 'नो रिडेवलपमेंट एग्रीमेंट नो वोट' । इस इलाके में रहनेवालो का कहना है की जबतक बीडीडी चॉल के रिडेवलपमेंट एग्रीमेंट का काम नहीं होता तब तक किसी भी पार्टी को वोट नहीं करेंगे।  


स्थानिय लोगों का कहना है की  अधिकारियों ने उन्हे पुनर्विकास प्रक्रिया के दौरान अन्य स्थानों पर ट्रांजिट हाउस की पेशकश की है, लेकिन वे उन्हे लिखित रूप में नहीं दे रहे हैं कि उन्हे फिर से उसी जगह पर बयासा जाएगा जहां से उन्हे   ट्रांजिट हाउस में भेजा जा रहा है, स्थानिय निवासी चाहते है की  कि समझौते में इसका उल्लेख किया जाए लेकिन अभी तक ऐसा कुछ नहीं हुआ, जिसके बाद लोगों ने  किसी को भी वोट नहीं देने का फैसला किया है।

बीडीडी चॉल के  रिडेवलपमेंट की फाइल म्हाडा के पास पड़ी हुई है।  अभी तक चॉल के  रिडेवलपमेंट पर कोई भी कार्य नहीं किया गया है।  स्थानिय रहिवासियों का आरोप है की पिछलें पांच सालों से सांसद अरविंद सावंत ने उनकी समस्याओं पर ध्यान नहीं दिया है।  

यह भी पढ़े- मिलिंद देवड़ा ने मुंबईकरो की अपील , ना भरे संपत्ति कर!

संबंधित विषय