कोस्टल रोड भूमि पूजन: बीजेपी को आमंत्रित न कर बीजेपी ने चुकता किया पुराना हिसाब?


SHARE

शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे ने रविवार को बीएमसी की बहुप्रतीक्षित कोस्टल रोड परियोजना का भूमिपूजन किया। इस मौके पर उद्धव सपरिवार पहुंचे थे। बताया जाता है कि इस परियोजना में पहले चरण में प्रिंसेस स्ट्रीट से बांद्रा-वर्ली सी लिंक तक का काम होगा और दुसरे चरण में बांद्रा से वर्सोवा तक का कम किया जाएगा। चौंकाने वाली बात यह रही कि शिवसेना ने इस मौके पर किसी को आमंत्रित नहीं किया था, यहां तक की पोस्टर में सीएम फडणवीस का भी नाम नहीं डाला गया था।

उद्धव ने पूरा किया बदला?
हालांकि इस भूमिपूजन से अधिक चर्चा का विषय शिवसेना द्वारा बीजेपी सहित किसी भी पार्टी को न्योता नहीं देना बना रहा। इस मौके पर उद्धव समेत शिवसेना के तमाम बड़े नेता और मंत्री उपस्थित थे। बीजेपी को आमंत्रित न कर उद्धव ने एक तरह से अपना बदला पूरा किया, क्योंकि फडणवीस सरकार द्वारा आयोजित शिवाजी स्मारक के लिए पीएम मोदी से भूमिपूजन करवाना हो या फिर बाबा साहेब आम्बेडकर स्मारक के लिए इंदु मिल में भूमिपूजन करवाना इन तमाम कार्यक्रमों में भी उद्धव को नहीं आमंत्रित किया था।

इस तरह है कोस्टल रोड परियोजना 
मुंबई में ट्रैफिक को कम करने के लिए बीएमसी ने 12,000 करोड़ रुपये की महत्वाकांक्षी योजना कोस्टल रोड के कार्यों को शुरु किया है। ऐसा माना जाता है कि इस कोस्टल रोड में हाजी अली, पेडर रोड (अमरसन गार्डन) और वर्ली सीफेस बहु-स्तर के इंटरचेंज होंगे, जिसमें कुल 18 इंट्री और एक्जिट प्वाइंट होंगे।

प्रिससेंस स्ट्रीट फ्लाईओवर से शुरु और कांदिवली में खत्म"
29.2 किमी के कोस्टल रोड प्रिससेंस स्ट्रीट फ्लाईओवर से शुरु होगा और कांदिवली में खत्म होगा। इसमें आठ लेन होंगे, जिनमें दो बीआरटीएस के लिए होंगे। बीएमसी के आंकड़ों के अनुसार, सड़क 2024 तक हर दिन 3,43,126 पीसीयू (प्रति कार यूनिट) ले जाएगी। बीएमसी पहले चरण में प्रिंसेस स्ट्रीट फ्लाईओवर से बांद्रा-वरली सीलिंक से 9.98 किलोमीटर के रास्तों का निर्माण करेगी और कनेक्टर्स के साथ सड़क की लंबाई 13.88 किमी होगी।

कहां कितने एंट्री और एक्जिट
पेडर रोड इंटरचेंज में चार प्रवेश-निकास द्वार होंगे। हाजी अली इंटरचेंज में आठ और वर्ली में छह होंगे। बीएमसी 1,625 वाहनों की क्षमता के साथ तीन इंटरचेंजों के पास एक भूमिगत पार्किंग स्थल भी तैयार करेगा।

इसके साथ-साथ, बीएमसी गाड़ियों के लिए 40 किमी / घंटा की गति सीमा रखी है। महाराष्ट्र राज्य सड़क विकास निगम (एमएसआरडीसी) वर्सोवा के बांद्रा-वरली समुद्र लिंक के 5.6 किमी विस्तार का निर्माण करेगी।

यह है ख़ास बात 

  • पहला चरण होगा प्रिंसेस स्ट्रीट से बांद्रा-वर्ली सी लिंक तक 
  •  दूसरा चरण बांद्रा से वर्सोवा तक 
  • कोस्टल रोड की कुल लंबाई 9.98 किलोमीटर होगी 
  • परियोजना की कुल लागत 12,721 करोड़ रुपए 
  •  3.45 किलोमीटर की होगी टनल 
  •  आने-जाने के लिए 8 लेन की सड़क 
  • 70 हेक्टेयर का ग्रीन एरिया मिलेगा 
  • नरीमन पॉइंट से बांद्रा कुछ मिनट का रास्ता 
संबंधित विषय
ताजा ख़बरें