लोकसभा से पास हुआ तीन तलाक बिल, कई मुस्लिम महिलाओं ने जताई ख़ुशी

बिल पर जब वोटिंग का वक्त आया तो कांग्रेस समेत सपा और दूसरे दलों ने सदन से वॉकआउट कर दिया। बावजूद इसके बीजेपी सांसदों की पर्याप्त संख्या होने के चलते यह बिल लोकसभा से पास हो गया। तीन तलाक विधेयक के पक्ष में 245 और विरोध में कुल 11 वोट पड़े।

SHARE

आखिर बीजेपी ने लोकसभा से तलाक- ए- बिद्द्त यानी तीन तलाक को लोकसभा से पास करा ही लिया। गुरूवार सुबह से ही सदन में तीन तलाक पर चर्चा के दौरान काफी हंगामा देखने को मिला, इस पर काफी चर्चा भी हुई, यही नहीं कांग्रेस सहित अन्य दलों ने मांग की कि मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक 2018 को चर्चा के लिए कमेटी के पास भेजा जाए लेकिन बिल पर जब वोटिंग का वक्त आया तो कांग्रेस समेत सपा और दूसरे दलों ने सदन से वॉकआउट कर दिया। बावजूद इसके बीजेपी सांसदों की पर्याप्त संख्या होने के चलते यह बिल लोकसभा से पास हो गया। तीन तलाक विधेयक के पक्ष में 245 और विरोध में कुल 11 वोट पड़े।

कई सांसदों के प्रस्ताव गिरे 
इसके पहले कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने लोकसभा में मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक 2018 पेश किया। पेश होने के बाद जैसे की आसार नजर आ रहे थे विपक्षियों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। इस बिल पर लाये गये सांसद प्रेमचंद्रन का संशोधन प्रस्ताव तो गिरा ही साथ ही ओवैसी की ओर से लाए गए प्रस्ताव को भी सदन से मंजूरी नहीं मिल सकी। यही नहीं बीजेडी सांसद भर्तृहरि महताब की ओर से लाया गया संशोधन प्रस्ताव भी खारिज हो गया।

बीजेपी ने जारी किया था व्हिप 
अब सरकार को इस बिल को राज्य सभा से पास कराना काफी चुनौती भरा कम होगा, क्योंकि राज्य सभा में बीजेपी सरकार के पास बहुमत नहीं है। आपको बता दें कि तीन तलाक को लेकर बीजेपी ने अपने सांसदों को दो दिन पहले ही व्हिप जारी कर सभी को उपस्थित होने के लिए कहा था। बीजेपी ने पहले ही विपक्ष का मूड भांप लिया था कि इस पर वोटिंग भी हो सकती है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें