भाजपा-शिवसेना के बीच बढ़ा गतिरोध, शाम को होने वाले बैठक को शिव सेना ने किया रद्द

सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) के बयान से शिव सेना के पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे (uddhav Thackeray) नाराज बताये जा रहे हैं।

SHARE

महाराष्ट्र (Maharashtra) में मुख्यमंत्री पद को लेकर बीजेपी और शिव सेना (Shiv Sena) के बीच चल रहा गतिरोध अब और भी बढ़ता जा रहा है। दोनों दलों के बीच मंगलवार शाम को सरकार गठन को लेकर एक बैठक होने वाली थी जिसे शिव सेना की तरफ से रद्द कर दिया गया। सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) के बयान से शिव सेना के पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे (uddhav Thackeray) नाराज बताये जा रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस मीटिंग में शिवसेना की तरफ से संजय राउत और सभाष देसाई जाने वाले थे और बीजेपी की तरफ से केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर और भूपेंद्र यादव हिस्सा लेने वाले थे, लेकिन अब जब बैठक रद्द हो गयी है तो कोई नहीं जाएगा।

बैठक रद्द होने की बात पर शिव सेना सांसद और प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि, यह तय हुआ था कि आज शाम 4 बजे से चर्चा शुरु होगी, लेकिन जब मुख्यमंत्री खुद कह रहे हैं तो 50-50 फॉर्मूले पर बात नहीं हुई तो फिर हम क्या बात करेंगे? किस आधार पर हम उनसे बात करेंगे? इसलिए उद्धव ठाकरे ने दोनों पार्टियों की तय मीटिंग को रदद् कर दिया है।

बता दें देवेंद्र फडणवीस के इस बयान पर कि 'BJP कभी भी शिवसेना के साथ 50-50 फॉर्मूले पर चर्चा नहीं की और महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री मैं ही बनूंगा', शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा, हमें लगता है कि सच की परिभाषा अब बदलनी पड़ेगी, 50-50 फॉर्मूले की बात अमित शाह के सामने हुई है. इस दौरान देवेंद्र जी भी साथ थे। 

आपको बता दें कि शिवसेना ने राज्य में अगली गठबंधन सरकार के लिए दावा पेश करने से पहले बीजेपी से 'सत्ता के समान बंटवारे के फॉर्म्युले' को लागू करने के लिए लिखित में आश्वासन की मांग कर रही है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें