Advertisement

सिद्धीविनायक मंदिर में भक्त ने चढ़ाया 35 किलो सोना, गर्भ गृह हुआ सोने का

श्री सिद्धिविनायक मंदिर में 35 किलो सोना दान करने वाले गणेश भक्त के नाम का सुरक्षा के मद्देनजर खुलासा नहीं किया गया है। लेकिन भक्त के द्वारा दिए गए इस दान से मंदिर के गर्भगृह के दीवारों पर सोने की परत चढ़ाई गयी है।

सिद्धीविनायक मंदिर में भक्त ने चढ़ाया 35 किलो सोना, गर्भ गृह हुआ सोने का
SHARES


मुंबई के आराध्य देव कहे जाने वाले प्रभादेवी सिद्धिविनायक (Siddhivinayak Temple) के गणपति बप्पा के दर्शन के लिए लोग देश के कोने-कोने से ही नहीं बल्कि विदेशों से भी आते हैं। बप्पा की जिन पर कृपा बरसती हैं वे भी बप्पा के चरणों में तन-मन और धन से दान देते हैं। एक गणेश भक्त ने श्री सिद्धिविनायक के चरणों में लगभग 35 किलो सोना चढ़ाया है। इस 35 किलो सोने की कीमत 14 करोड़ रुपये बताई जाती है।

श्री सिद्धिविनायक मंदिर में 35 किलो सोना दान करने वाले गणेश भक्त के नाम का सुरक्षा के मद्देनजर खुलासा नहीं किया गया है। लेकिन भक्त के द्वारा दिए गए इस दान से मंदिर के गर्भगृह के दीवारों पर सोने की परत चढ़ाई गयी है। गर्भगृह के छत और गुंबद के हिस्से पर सोने की परत चढ़ाई गयी है।

सिद्धिविनायक मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष आदेश बांदेकर ने कहा कि, सिद्धिविनायक मंदिर के इतिहास में यह पहली बार है जब किसी भक्त ने इतनी बड़ी मात्रा में सोने का दान किया हो।

आपको बता दें कि प्रसिद्ध सिद्धिविनायक मंदिर को 15 जनवरी से 19 जनवरी तक बंद रखा गया था माघी गणेश जयंती की तैयारी के लिए मंदिर बंद था माघी गणेश जयंती 25 जनवरी से एक फरवरी के दौरान मनाई जाएगी।  ऐसी मान्यता है कि माघी गणेश जयंती के दिन भगवान गणेश का जन्म हुआ था। 

आपको बता दें कि इस समय माघी गणेश जयंती के उपलक्ष्य में मंदिर के पट को 15 से लेकर 20 जनवरी तक बंद किया गया है। इस दौरानबप्पा की मूर्ति में सिंदूर लेपन का कार्य होगा। मंदिर का पट सोमवार 20 जनवरी को खुलेगा। लेकिन इसी दौरान मंदिर के गर्भ गृह में सोने की परत चढ़ाने का भी काम किया गया।

सिद्धिविनायक मंदिर ट्रस्ट को दिए गए इस 35 किलो सोने के दान के कारण मंदिर की आय में भी वृद्धि हुई है मंदिर की आय 83 करोड़ रुपए से बढ़ कर 101 करोड़ रुपए हो गयी है। 

सिद्धिविनायक मंदिर मुंबई का सबसे प्रसिद्ध गणेश मंदिर है। यहां आम लोगों से लेकर सेलिब्रिटीज तक बप्पा के चरणों में शीश नवाने आते हैं। मंदिर में हर मंगलवार, शनिवार और रविवार को भारी भीड़ जुटती है।  

पढ़ें: सिद्धि विनायक मंदिर 15 से 19 जनवरी तक रहेगा बंद

संबंधित विषय
Advertisement