Advertisement

सड़क के गड्ढे में गिर कर किसी की मौत न हो, ये दोनों करते हैं यह काम

बिना किसी की मदद से इस तरह सड़क के गड्ढे भरना एक तरह से मानवता की सेवा करना है और यह सेवा इरफ़ान और मुश्ताक जैसे लोग बड़ी ही संजीदगी और मेहनत से करते हैं।

सड़क के गड्ढे में गिर कर किसी की मौत न हो, ये दोनों करते हैं यह काम
SHARES
Advertisement

मुंबई की सड़कों पर हर साल लाखों-करोड़ों खर्च होने वाले इन खस्ताहाल सड़कों की स्थिति किसी से छुपी नहीं है। सड़कों पर होने वाले गड्ढे में गिर कर अब तक कई लोगों की मौत हो चुकी है। इसके बावजूद इन सड़कों की स्थिति जस की तस रहती है। प्रशासन के उदासीन रवैये को देखते हुए दो ऐसे शख्स हैं जिन्होंने बिना किसी सरकारी मदद के सड़क के गड्ढों को भरना शुरू कर दिया, ताकि इन गड्ढों में गिर कर किसी की मौत न हो।

क्या है मामला?

इरफ़ान मच्छीवाला और मुश्ताक अंसारी आम लोगों से थोड़ा हट कर हैं। हट कर इसीलिए क्योंकि मुंबई की सड़क पर बने गड्ढे से हर कोई परेशान है, और सरकार को कोसता रहता है, और फिरस अब कुछ भूल कर आगे बढ़ जाता है। लेकिन इरफ़ान और मुश्ताक ने ऐसा नहीं किया। सड़क पर आते-जाते ये भी परेशान होते थे, लेकीन संबंधित विभाग को दोष देने के बजे इन्होने कुछ अलग किया। बिना किसी सरकारी मदद के ये लोग अपने पैसे खर्च करके मिट्टी लाते हैं और गड्ढे भरते हैं।

इस बारे में इरफान कहते हैं कि आम लोगों को यह पता है नहीं है कि सड़क किस सरकारी विभाग के अंतर्गत आता है। लोगों को इस बात की जानकारी ही नहीं है कि गड्ढे के बारे में शिकायत कहां करना है, बीएमसी को, MCGM को या फिर PWD विभाग को। हालांकि BMC ने अब इन गड्ढों की शिकायत करने के लिए एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है और एक एप्लिकेशन भी बनाया है।

बिना किसी की मदद से इस तरह सड़क के गड्ढे भरना एक तरह से मानवता की सेवा करना है और यह सेवा इरफ़ान और मुश्ताक जैसे लोग बड़ी ही संजीदगी और मेहनत से करते हैं। इनके इस काम के लिए मुंबई लाइव का सलाम।

संबंधित विषय
Advertisement