औरों से अलग हैं सीता वेटाल... जानें क्यों हैं सबसे जुदा


  • औरों से अलग हैं सीता वेटाल... जानें क्यों हैं सबसे जुदा
  • औरों से अलग हैं सीता वेटाल... जानें क्यों हैं सबसे जुदा
  • औरों से अलग हैं सीता वेटाल... जानें क्यों हैं सबसे जुदा
SHARE

गिरगांव – सीता वेटाल जो पिछलें 25 सालों से गिरगांव के फुटपाथ पर मोची का काम करती आ रही हैं। वो रोज सुबह 9 बजे से लेकर रात 9 बजे तक लोगों के जूते सीने का काम करती हैं। 40 वर्षीय सीता वेटाल चप्पल की सिलाई के साथ साथ बैग सीने का भी काम करती हैं। इस काम को करते हुए इन्होंने कभी खुद को छोटा महसूस नही किया।

सीता वेटाल ने अपने पिता की मौत के बाद उनके चर्मकार के पेशे को अपने हाथ में लिया और अपने दिव्यांग भाई के साथ पूरे परिवार की जिम्मेदारी बखूबी संभाली। सीता के पति पेशे से ड्राइवर हैं और वो अपनी पत्नी के साथ हमेशा खड़े रहते हैं। सीता के बेटे भी अपनी मां के साथ काम में उनका सहयोग करते हैं। जिंदगी के अलग-अलग पहलुओं को जीने के साथ, सीता अपने परिवार के साथ हमेशा खुश रहती हैं।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें

YouTube वीडियो