Advertisement

कोरोना के कारण शिर्डी साईं बाबा के दर्शन करने का समय बदला गया, नया समय इस प्रकार है!

कोरोना वायरस (Govind 19) के प्रसार को रोकने के लिए अमरावती सहित देश के अन्य हिस्सों में सख्त प्रतिबंध लगाए गए हैं। लोगों से मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंस का पालन करने और हाथ धोने की अपील की गई है।

कोरोना के कारण शिर्डी साईं बाबा के दर्शन करने का समय बदला गया, नया समय इस प्रकार है!
SHARES

पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र में कोरोना वायरस (Corona virus in maharashtra) के केस फिर से तेज गति से बढ़ रहे हैं। जिसके प्रभाव से देवता भी नहीं बच पा रहे हैं।

कोरोना वायरस (corona virus) को देखते हुए शिरडी (shirdi) में साईं संस्थान ने साईं भक्तों के दर्शन के लिए एक नए समय की घोषणा की है। साथ ही दर्शन के समय भक्तों के लिए कुछ अन्य प्रतिबंध भी लगाए गए हैं।

श्री साईं बाबा संस्थान द्वारा तय किए गए नए शेड्यूल के अनुसार, अब साईं भक्त सुबह 6 बजे से रात 9 बजे तक दर्शन कर सकेंगे। उसके बाद, साईं संस्थान ने रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक दर्शन बंद रखने का फैसला किया है। शिरडी मंदिर संस्थान की तरफ से यह निर्णय कोरोना वायरस के रोकथाम के मद्देनजर लिया गया है।

भीड़ से बचने के लिए भक्तों के लिए कुछ नियम बनाये गए हैं, जैसे भक्तों के लिए सुबह की काकड़ आरती और रात की शेज आरती को भी बंद कर दिया जाएगा, इसके अलावा गुरुवार को पालकी को भी बंद कर दिया जाएगा, गुरुवार-शनिवार-रविवार और त्यौहार के दिनों में बायोमेट्रिक पास काउंटर बंद रखे जाएंगे।

इस बीच, कोरोना वायरस (Govind 19) के प्रसार को रोकने के लिए अमरावती सहित देश के अन्य हिस्सों में सख्त प्रतिबंध लगाए गए हैं। लोगों से मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंस का पालन करने और हाथ धोने की अपील की गई है।

इस बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) ने लोगों द्वारा बरती जा रही लापरवाही को लेकर चेतावनी दी, और लॉकडाउन (lockdown) फिर से लागू नहीं होने के एवज में कोरोना प्रोटोकॉल (Corona protocols) का पालन करने को कहा।

इसके अलावा प्रशासन की तरफ से राजनीतिक, सामाजिक और धार्मिक आयोजनों की अनुमति पर रोक लगा दी गई है। मुख्यमंत्री ने गैर-जिम्मेदार पब, होटलों , हॉल, रेस्तरां के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के लिए भी प्रशासन को निर्देश दिया है।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें