Advertisement

महंगाई की पड़ेगी दोहरी मार, ट्रांसपोर्ट यूनियन माल भाड़े में करेगा वृद्धि, रोजमर्रा की वस्तुएं होंगी महंगी

मुंबई की ट्रांसपोर्ट यूनियन ने यातायात किराए में 15 फीसदी बढ़ाने का फैसला किया है। यह किराया वृद्धि 1 मार्च से लागू किया जाएगा। इसलिए, आने वाले दिनों में आम लोगों को सब्जियां और फल अधिक महंगे दामों में खरीदने पड़ सकते हैं।

महंगाई की पड़ेगी दोहरी मार, ट्रांसपोर्ट यूनियन माल भाड़े में करेगा वृद्धि, रोजमर्रा की वस्तुएं होंगी महंगी
SHARES

महंगाई से त्रस्त आम लोगों के लिए अब एक और बुरी खबर है। तेल (oil price increase) के दाम बढ़ने के कारण ट्रांसपोर्ट यूनियन (transport union) ने भी अपने माल भाड़े में वृद्धि करने का निर्णय लिया है।

पिछले कुछ महीनों में पेट्रोल (petrol) और डीजल (Diesel) की कीमतें तेजी से बढ़ी हैं।चूंकि डीजल की कीमत 90 रुपये के करीब हो गई है, इसलिए मुंबई की ट्रांसपोर्ट यूनियन ने यातायात किराए में 15 फीसदी बढ़ाने का फैसला किया है। यह किराया वृद्धि 1 मार्च से लागू किया जाएगा। इसलिए, आने वाले दिनों में आम लोगों को सब्जियां और फल अधिक महंगे दामों में खरीदने पड़ सकते हैं।

नवी मुंबई (navi mumbai) के एपीएमसी मार्केट (apmc market) में महाराष्ट्र ही नहीं बल्कि विदेशों से भी फल और सब्जियां आती हैं। इन फल और सब्जियों को मुंबई शहर, मुंबई उपनगरों, वसई-विरार, कल्याण, डोंबिवली, पनवेल क्षेत्रों में प्रतिदिन 2000 गाड़ियां इन सामानों की आपूर्ति करती है। लेकिन तेल के दाम बढ़ने के ख़राब अब ट्रांसपोर्ट यूनियन ने किराया बढ़ाने का फैसला किया है। यूनियन ने कहा है कि, किराया बढ़ाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। टेंपो का किराया अंतिम बार तब तय किया गया जब डीजल 61 रुपये था, लेकिन आज डीजल महंगा हो गया है लेकिन किराया उतना ही है। इसलिए, मुंबई टांसपोर्ट यूनियन ने 1 मार्च से माल भाड़े में 15 प्रतिशत की वृद्धि की घोषणा की है।

अगर माल भाड़े में वृद्धि होती है तो सब्जियां, प्याज, आलू और फलों जैसी रोजमर्रा वस्तुओं के दाम भी बढ़ जाएंगे जिससे आम आदमी पर महंगाई की दोहरी मार पड़ेगी। अब यह महंगाई की मार कहाँ जाकर रुकती है, यह तो आने वाले समय में ही पता चलेगा।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें