मुंबई को हरा गुजरात ने रचा इतिहास

 Pali Hill
मुंबई को हरा गुजरात ने रचा इतिहास

मुंबई - गुजरात ने रणजी ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले के पांचवें एवं अंतिम दिन शनिवार को मौजूदा विजेता मुंबई को पांच विकेट से मात देते हुए पहली बार खिताब पर कब्जा जमाया है। गुजरात को जीत के लिए चौथी पारी में 312 रनों की दरकार थी। कप्तान पार्थिव पटेल (143) की अगुआई में गुजरात ने 89.5 ओवरों में पांच विकेट खोकर यह लक्ष्य हासिल कर ऐतिहासिक जीत हासिल की।

पार्थिव के अलावा मनप्रीत जुनेजा ने भी 54 रनों का अहम योगदान दिया। पार्थिव 46वीं बार फाइनल खेल रही मुंबई की पहली पारी 228 रनों पर ही सिमट गई थी। इसके बाद गुजरात ने पार्थिव (90) और मनप्रीत (77) की पारियों की मदद से अपनी पहली पारी में 328 रन बनाते हुए 100 रनों की बढ़त ले ली थी। गुजरात इससे पहले 1950-51 में रणजी ट्रॉफी के फाइनल में पहुंचा था। गुजरात पहली बार फाइनल में होल्कर क्रिकेट टीम से हारा था और इ्त्तेफाक देखिए कि इस बार उसने होल्कर स्टेडियम में ही यह जीत हासिल की थी। मुंबई ने दूसरी पारी में 411 रन बनाते हुए गुजरात के सामने 312 रनों का लक्ष्य रखा था। चिराग गांधी (नाबाद 11) ने टीम के लिए विजयी शॉट लगाया। गांधी के साथ रुजुल भट्ट 27 रन बनाकर नाबाद लौटे।

Loading Comments