वाटसअप : अफवाह और झूठ का मंच

 Pali Hill
वाटसअप : अफवाह और झूठ का मंच

मुंबई - सोशल मीडिया, अपनी बातों और संवेदनाओं को जाहिर करने का एक अच्छा माध्यम है, लेकिन अब इन्ही माध्यमों की विश्वसनियता पर सवाल उठने लगे हैं। इसी तरह सोशल मीडिया के एक माध्यम वाटसअप पर लोग मैसेज अपने फोटो और विडियो पोस्ट करते रहते हैं लेकिन अब यही वाटसअप अफवाहों और झूठ का मंच बनता जा रहा है। इसीलिए कोई भी मैसेज ,फोटो या विडियो पोस्ट करते समय उसकी विश्वसनियता जांचने के बाद ही उसे शेयर करना चाहिए. खास कर पत्रकारों को यह ध्यान में रखना चाहिए।. वे अनेक ग्रुप से जुड़े होते हैं कोई भी फोटो या मैसेज पोस्ट करते समय उसकी असलियत को जाने बिना पोस्ट नहीं करना चाहिए। 9 दिसंबर के दिन वाटसअप के कई ग्रुप में यह मैसेज पोस्ट हुआ कि लोअरपरेल के एक बिल्डिंग में आग लगी. देखते ही देखते यह मैसेज सभी ग्रुप में पोस्ट हो गयी. जबकि इस खबर में कोई सच्चाई नहीं थी. लेकिन कितने ही पत्रकारों ने इस खबर की पड़ताल किए बिना ही इस खबर को कई ग्रुप में पोस्ट कर दिया.आपत्तिजनक फोटो को शेयर करते समय आम लोगों पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा इसका ध्यान रखना चाहिए।

Loading Comments