उद्धव ठाकरे की मध्यस्थता भी हुई निष्फल, बेस्ट कर्मचारियों ने शुरू की हड़ताल

वेतन वृद्धि सहित अन्य मुद्दों को लेकर बेस्ट कर्मचारियों ने हड़ताल शुरू करने की चेतावनी दी थी, इसके बाद इस मामले को सुलझाने के लिए खुद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मध्यस्थता की, लेकिन बात नहीं बनी।

SHARE

वेतन वृद्धि सहित अन्य मुद्दों को लेकर बेस्ट कर्मचारियों ने हड़ताल शुरू करने की चेतावनी दी थी, इसके बाद इस मामले को सुलझाने के लिए खुद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मध्यस्थता की, लेकिन बात नहीं बनी। इसके बाद बेस्ट कर्मचारियों ने मंगलवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी।

पढ़ें: मंगलवार को बेस्ट हड़ताल पर फैसला

बेस्ट संयुक्त कामगार कृति समिति की तरफ से बताया गया कि, बेस्ट कर्मचारियों की मांग कई दिनों से पेंडिंग पड़ी है। हमने तीन बार हड़ताल की योजना को कैंसिल किया। पिछले शुक्रवार को कृति समिति ने सभी बस डिपो में इस हड़ताल करने के फैसले पर मतदान कराया था, जिसमें 98 फीसदी कर्मचारी हड़ताल के पक्ष में थे। हमने पहले ही कहा था कि अगर हमारी मांग नहीं मानी गयी तो हम मंगलवार से हड़ताल शुरू कर देंगे।

पढ़ें: 23 अगस्त तक टली बेस्ट कर्मचारियों की हड़ताल

आपको बता दें कि बेस्ट कर्मचारी अप्रैल 2016 से ही लंबित पड़े वेतन को लेकर सातवें आयोग को लागू करने की मांग कर रहे हैं। साथ ही इनकी मांगों में बेस्ट के बजट को बीएमसी के बजट में विलीन करना, बीएमसी कर्मचारियों की तरफ इन्हें भी बोनस और अतिरिक्त फंड देने जैसे मुद्दे शामिल हैं।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें