धातु काटने के लिए मध्य रेलवे करेगा प्राकृतिक गैस का इस्तेमाल

 Matunga
धातु काटने के लिए मध्य रेलवे करेगा प्राकृतिक गैस का इस्तेमाल

समय के साथ साथ भारतीय रेल ने भी अपनी एक अलग ही पहचान बना रखी है। इस बार भी भारतीय रेल कुछ अलग करने जा रही है। रेलवे माटुंगा वर्कशॉप में प्राकृतिक गैंस का इस्तेमाल करने जा रही है। इसी तरह यह वर्कशॉप देश का पहला वर्कशॉप होगा जहां प्राकृतिक गैस का इस्तेमाल किया जाएगा। धातू को कट करने के लिए इस वर्कशॉप में प्राकृतिक गैस का इस्तेमाल किया जाएगा। जिसकी जानकारी मध्य रेलवे के प्रमुख संपर्क अधिकारी नरेंद्र पाटील ने दी।

एलपीजी गैस के बंदी के बाद महानगर गैस और भारतीय रेलवे के बीच यह करार काफी महत्तवपूर्ण हो सकता है। इस कार्य के लिए 36 हजार किलो गैस का इस्तेमाल किया गया। नरेंद्र पाटील ने बताया की माटुंगा कार्यशाला में इसका इस्तेमाल कारतूस के सभी कार्यों, भागों, रंग योजना और रखरखाव के लिए किया जाएगा।

Loading Comments