इथियोपिया एयरलाइंस हादसे के बाद डीजीसीए ने बोइंग से मांगी जानकारी

इथियोपिया एयरलाइंस द्वारा संचालित बोइंग 737 मैक्स 8 एयरक्राफ्ट के दुर्घटनाग्रस्त होने के कारण उसमें सवार सभी 180 लोगों की मौत हो गई थी, जिसके बाद बोइंग से डीजीसीए ने विमानो के बारे में जानकारी मांगी है

SHARE

इथियोपिया एयरलाइंस द्वारा संचालित बोइंग 737 मैक्स 8 एयरक्राफ्ट के दुर्घटनाग्रस्त होने के कारण उसमें सवार सभी 180 लोगों की मौत हो गई। इस विमान में 33 देशों के 149 यात्री और चालक दल के आठ सदस्य सवार थे। यह विमान केन्या जा रहा था। अदीस अबाबा से नैरोबी की उड़ान भरने वाले इस विमान का हादसा सुबह 8.44 बजे (स्थानीय समयानुसार) हुआ। इस हादसे को ध्यान में रखते हुएभारत के विमानन नियामक महानिदेशालय (डीजीसीए) ने बोइंग से जानकारी की मांग की है

भारतीय एयरलाइंस जेट एयरवेज और स्पाइसजेट जैसी भारतीय एयरलाइंस कंपनी बोइंग का संचालन करती है। जेट एयरवेज और स्पाइसजेट ने प200 से अधिक B737 मैक्स का ऑर्डर दिया है। हालांकि, जेट एयरवेज ने अपने सभी 737 मैक्स विमानों को भुगतान के मुद्दों के कारण उड़ाने रद्द कर दी है। तो वही स्पाइस जेट अभी भी इस फ्लाइट को देश और विदेश में ऑपरेट करता है।

इंडोनेशिया में घटना के बाद, DGCA ने विमानों की समीक्षा की और पाया की विमान सुरक्षित है। हालाँकि, इसके बावजूद, 737 MAX को DGCA द्वारा ETOPS के लिए प्रमाणित नहीं किया गया है।737 MAX बोइंग 737 का एक संशोधित और फ्यूल एफिसियेंस वाला विमान है। इस विमान को जेट एयरवेज, स्पाइसजेट और एयर इंडिया द्वारा संचालित किया जाता है।

यह भी पढ़ेअब और भी हाईटेक होगी मोनेरेल

संबंधित विषय