Advertisement

जेट एयरवेज मामला - अंतर्राष्ट्रीय परिवहन कर्मचारी महासंघ ने पीएम को लिखी चिठ्टी

अंतर्राष्ट्रीय परिवहन कर्मचारी महासंघ (ITF) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर इस मामले में दखल देने की मांग भी की है।

जेट एयरवेज मामला - अंतर्राष्ट्रीय परिवहन कर्मचारी महासंघ ने पीएम को लिखी चिठ्टी
SHARES

जेट एयरवेज कंपनी के बंद होने के बाद जेट के 22 हजार 500 कर्मचारियों के सामने उनके रोजी रोटी का सवाल खड़ा हो गया है।  अपनी मांगो को लेकर पिछलें कई दिनों से जेट के कर्मचारी  आंदोलन कर रहे है।  अंतर्राष्ट्रीय परिवहन कर्मचारी महासंघ (ITF) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर इस मामले में दखल देने की मांग भी की है। महासंघ की मांग है की कर्मचारियों की सैलरी के साथ साथ उनके पीएफ और उनके रोजगार के बारे में प्रधानमंत्री दखल देकर इसका निवारण जल्द से जल्द करे। 


जेट एयरवेज के बंद होने से कर्मचारियों और अधिकारियों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है, और उनके सामने अस्तित्व का एक गंभीर सवाल खड़ा हो गया है। इसलिए, ITF, जिसका मुख्यालय लंदन में है, ने जेट कर्मचारियों की समस्याओं पर ध्यान दिया है और इस समस्या को प्रधानमंत्री तक पहुँचाया है।



क्या है  ITF की मांग

जेट के वरिष्ठ कर्मचारियों, अधिकारियों, तकनीशियनों और पायलटों को जनवरी से वेतन नहीं मिला है। साथ ही, अन्य कर्मचारियों और अधिकारियों को मार्च महीने का भी वेतन नहीं मिला। इसके अलावा, ITF ने अपने पत्र में भी कहा है की कर्मचारियों के किसी भी अधिकारी का उल्लंघन ना हो और उनके पीएफ से लेकर उनके रोजगार तक के मुद्दे पर सरकार ध्यान दे।  



यह भी पढ़े-
आज से कानपुर – मुंबई के लिए 2 फ्लाइट


Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
ताजा ख़बरें

मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें