लाइफ लाइन पर जिंदगी की कोई गारंटी नहीं

 Mumbai
लाइफ लाइन पर जिंदगी की कोई गारंटी नहीं

मुंबई - मुंबई में हर साल रेलवे ट्रैक पर होने वाली मौतों के चौंकाने वाले आंकड़े सामने आते हैं, मरने वालों की संख्या कम होने के बजाय बढ़ती जा रही है। रेलवे पुलिस से प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक 6 फरवरी को मुंबई के विभिन्न-विभिन्न जगहों पर घटी रेलवे दुर्घटना में कुल 11 यात्रियों की मौत हुई है और 12 जख्मी हो गए हैं। आंकड़ों के अनुसार इस दुर्घटना के सबसे अधिक शिकार मध्य रेलवे के यात्री हुए हैं। मध्य रेलवे के दादर, कल्याण, डोम्बिवली में 9 यात्रियों ने अपनी जान गंवाई जबकि वेस्टर्न रेलवे में 8 यात्री घायल हुए हैं। आंकड़ों के अनुसार 8 शव ऐसे हैं जिनकी पहचान अभी होनी बाकी है। रेल की पटरी पार करने का मतलब मौत को गले लगाना है, ये बात जानते हुए भी लोग इसके प्रति गंभीर नहीं है।

Loading Comments