'लेडीज स्पेशल' बनेगा माटुंगा रेलवे स्टेशन

 Matunga
'लेडीज स्पेशल' बनेगा माटुंगा रेलवे स्टेशन

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में अब आपको एक ऐसा रेलवे स्टेशन मिलेगा जहां पर सिर्फ महिला कर्मचारी ही काम करती हुई नजर आएंगी। सेंट्रल रेलवे के माटुंगा स्टेशन पर जाने के बाद आपको यहां महिलाओं की पूरी टीम नजर आएगी। इस स्टेशन में स्टेशन मास्टर से लेकर सफाई कर्मी तक सभी ही महिलाएं ही होंगी।

माटुंगा रेलवे स्टेशन को लगभग एक हफ्ते बाद महिला स्टाफ सौंप दिया जाएगा। माटुंगा स्टेशन पर 30 महिला कर्मचारियों का स्टाफ काम करेंगी। जिसमें 11 बुकिंग क्लर्क्स, 7 टिकट कलेक्टर्स, 2 चीफ बुकिंग अडवाजर्स, 5 रेलवे पुलिसकर्मी, 5 पॉइंट पर्सन, 2 अनाउंसर्स और एक स्टेशन मैनेजर हैं। रेलवे विभाग की मंशा है कि ऐसा करने से महिलाओं को सशक्त बनाया जाए।

आने वाले समय में महिला और भी सशक्त हों इसके लिए मध्य रेलवे और भी कदम उठा रहा है। रेलवे के अन्य विभागों में भी सराहनीय कार्य करके महिलों ने खुद को साबित किया है। - सुनील उदासी,  मुख्य जनसंपर्क अधिकारी, रेलवे  


मध्य रेलवे में पहली महिला कर्मचारी

पहली महिला महाव्यवस्थापक - सौम्या राघवन (1973 बैच, रेलवे ऑफिसर)

पहली महिला स्टेशन मास्टर - ममता कुलकर्णी ( कुर्ला स्टेशन 19 मई,1992)

पहली महिला गार्ड - श्वेता गोने


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 



Loading Comments