मेट्रो-3 पर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई याचिका

 Mumbai
मेट्रो-3 पर सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हुई याचिका

मेट्रो-3 (कुलाबा-बांद्रा-सिप्ज) को बॉम्बे हाईकोर्ट ने हरी झंडी दे दी है। लेकिन हाईकोर्ट के इस निर्णय को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है। आने वाले दो तीन हफ़्तों में इसकी सुनवाई हो सकती है। मेट्रो-3 को लेकर जो पेड़ काटे जा रहे हैं उसी के विरोध में SC में याचिका दायर की गयी है।
याचिकाकर्ता और सेव ट्री एनजीओ के सदस्य जोरू बथेना ने बताया कि हमारी मुख्य मांग है कि पेड़ों को न काटा जाए। हमारी निगाहें अब SC की तरफ है।

संबंधित स्टोरी : मेट्रो-3 की राह हुई पेड़ मुक्त

सेव ट्री की दो महिला सदस्यों परवीना जहांगीर और नीना वर्मा ने फरवरी महीने में मेट्रो-3 के लिए जो पेड़ काटे जा रहे हैं उसी के विरोध में हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की थी। उस समय हाईकोर्ट ने पेड़ को काटने पर रोक लगा दी थी। लेकिन अंतिम सुनवाई में कोर्ट ने स्थगन को हटाते हुए मेट्रो-3 को मंजूरी दे दी, जिसके मद्देनजर अब याचिकाकर्ता ने SC का रुख किया है। मेट्रो-3 के लिए 15 मई तक अभी भी रोक लगी है। याचिकार्ता ने कहा कि हाईकोर्ट के आदेश से हम निराश हैं लेकिन हम निर्णय का सम्मान करते हैं। मुंबई में इतने बड़े पैमाने पर पेड़ों का काटे जाना पर्यावरण के लिए गंभीर मुद्दा है। हमें आशा है कि SC से हमें न्याय मिलेगा।

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

Loading Comments