'ऐ दिल है मुश्किल' पर करण ने चुप्पी तोड़ी

मुंबई- 'ऐ दिल है मुश्किल' की रिलीज से पहले जारी विवाद के बीच पहली बार डायरेक्टर करन जौहर ने चुप्पी तोड़ी है। मंगलवार को एक वीडियो मैसेज में उन्होंने कहा कि मैं मौजूदा सेंटीमेंट्स की इज्जत करता हूं। आगे से ऐसे हालात में बेशक मैं पड़ोसी देश के टैलेंट का इस्तेमाल नहीं करूंगा। बता दें कि 28 अक्टूबर को फिल्म रिलीज होने वाली है। इसमें पाकिस्तानी एक्टर फवाद खान और इमरान अब्बास नकवी हैं। महाराष्ट्र में राज ठाकरे की पार्टी मनसे ने फिल्म रिलीज का विरोध किया है। सिनेमा ओनर्स एग्जीबिटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (COEAI) ने भी कहा है कि 4 राज्यों की सिंगल स्क्रीन में यह मूवी नहीं दिखाई जाएगी। करन जौहर ने अपने वीडियो मैसेज में कहा, "पिछले दो हफ्ते से इस तरह की चर्चा थी कि मैं चुप क्यों हूं। आज मैं इसकी वजह साफ कर देना चाहता हूं। इसकी वजह यह है कि मैं आहत था, क्योंकि कुछ लोगों को लगता है कि मैं एंटी नेशनल हूं। मैं पुरजोर तरीके से कहना चाहता हूं कि मेरे लिए देश पहले है। मेरे लिए कुछ और मायने नहीं रखता। मुझे हमेशा लगता है कि देशभक्ति जाहिर करने का सबसे बेहतर तरीका प्यार है। मैं अपने सिनेमा में यही जाहिर करने की कोशिश करता हूं। जब मैंने पिछले साल सितंबर से दिसंबर तक 'ऐ दिल है मुश्किल' की शूटिंग शुरू की थी तो माहौल और हालात बिल्कुल अलग थे। सरकार पड़ोसी मुल्क के साथ अमन कायम करने की कोशिश कर रही थी। लेकिन आपको बताना चाहता हूं कि मेरे क्रू के 300 भारतीयों ने 'ऐ दिल है मुश्किल' के लिए अपना खून-पसीना बहाया है। मुझे नहीं लगता कि उनके लिए मुश्किल खड़ी करना, उनके साथ इंसाफ होगा। मैं इंडियन आर्मी को सैल्यूट करता हूं। वो हमारी हिफाजत के लिए सब कुछ करती है। मैं हर तरह के आतंकवाद की निंदा करता हूं।"

Loading Comments