पॉटहोल चैलेंज- 7 दिनों में मिले 1670 शिकायतें

बीएमसी का दावा है की इनमें से 91 प्रतिशत शिकायतों को निगम द्वारा ठिक कर दिया गया है

SHARE

बुधवार को आयोजित स्थायी समिति की बैठक में बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने कहा कि उन्हें 7 दिन के अभियान 'पोटहोल चैलेंज 2019' के छठे दिन तक गड्ढों की 1670 शिकायतें मिली हैं। बीएमसी का दावा है की  इनमें से 91 प्रतिशत शिकायतों को निगम द्वारा ठिक कर दिया गया है

दिवसीय अभियान 

बीएमसी ने 1 नवंबर से 7 नवंबर तक शुरू होने वाले 7-दिवसीय अभियान की शुरुआत की है। इस कदम के तहत, बीएमसी ने नागरिकों से अपने आधिकारिक ऐप पर गड्ढों के बारे में रिपोर्ट करने और 24 घंटे के भीतर मरम्मत नहीं करने पर 500 रुपये जीतने की अपील की है। संबंधित अधिकारी को अपनी जेब से राशि का भुगतान करना होगा।

विपक्ष के नेता रवि राजा ने सवाल उठाया कि कितने लोगों को इनाम मिला क्योंकि 9% प्रतिशत शिकायतें अनसुलझी रह गईं। लोगों को यह भी पता नहीं है कि काम के बारे में पूछताछ करने के लिए किससे संपर्क करना है अगर 24 घंटे के भीतर काम नहीं किया जाता है। 

क्या है योजना?

बीएमसी ने 1 नवंबर से गड्ढों की शिकायत दर्ज कराने के लिए एक योजना शुरू की थी। योजना के मुताबिक़ मुंबई की सड़कों पर 'गड्ढे दिखाओ और 500 रुपया पाओ'। जिसकी शर्त थी कि अगर शिकायतकर्ता गड्ढा दिखाता है और वह गड्ढा 24 घंटे के अंदर नहीं भरे जाते हैं तो शिकायतकर्ता को 500 रुपए इनाम में मिलेंगे। इस योजना के अनुसार अगर किसी इलाके में समय से गड्ढा नहीं भरा जाता है तो संबंधित वॉर्ड अधिकारी को ही अपनी जेब से इनामी राशि चुकानी पड़ेगी। इसके लिए बीएमसी ने बाकायदा एक ऐप भी जारी किया था।

यह भी पढ़े- 'गड्ढे' के पैसे नहीं दे रही हैं BMC, अभियंताओं में भी नाराजगी

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें