Advertisement

अंधेरी सबवे पर जलभराव से बचने के लिए नालों को चौड़ा करेगी बीएमसी


अंधेरी सबवे पर जलभराव से बचने के लिए नालों को चौड़ा करेगी बीएमसी
SHARES

मंगलवार सुबह हुई भारी बारिश के बाद अंधेरी मेट्रो पर जलभराव से यातायात बाधित हो गया। बाढ़ वाले स्थान को राहत देने के उद्देश्य से, बीएमसी ने अंधेरी पश्चिम में 100 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से नालों ( andheri nullah) चौड़ा करने की एक परियोजना शुरू की है, जिसे पूरा होने में 18 महीने लगेंगे।

आठ स्थानों पर पंपिंग स्टेशनों का निर्माण

2005 में बाढ़ के बाद, बीएमसी ने बाढ़ को रोकने के लिए आठ स्थानों पर पंपिंग स्टेशनों का निर्माण किया। तदनुसार, मोगरा नाला के पंपिंग स्टेशन से अंधेरी, वर्सोवा, जोगेश्वरी और ओशिवारा जैसे क्षेत्रों में राहत मिलती, जहां मानसून के दौरान जलभराव होता है। वहा पर पंपिंग स्टेशनों का निर्माण करना था , लेकिन अभी तक इस सही तरिके से लागू नहीं किया गया है।  

मुंबई में मंगलवार को रात के दौरान तीन हफ्तों में सबसे भारी बारिश हुई, सांताक्रूज में भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के मौसम केंद्र ने पिछले 24 घंटों में 123.6 मिमी बारिश दर्ज की।भारी बारिश के कारण कई इलाकों में जलभराव हो गया और ट्रैफिक जाम हो गया।

इस बीच, कोलाबा में आईएमडी के मौसम केंद्र में केवल 55 मिमी बारिश हुई, अरब सागर में एक भंवर के गठन के कारण, जिसने दक्षिण मुंबई की तुलना में शहर के उत्तर और मध्य भागों में अधिक वर्षा की।

यह भी पढ़ेसिर्फ 150 रुपये में करे पूरे मुंबई का सफर

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें