लालबाग के राजा मंडल पर सरकरी नियंत्रण

मंडल के खिलाफ प्राप्त शिकायतों को ध्यान में रखते हुए, चैरिटी आयुक्त ने मंडल पर सरकारी नियंत्रण लाने का फैसला किया है।

SHARE

लालबाग के राजा मंडल के खिलाफ लगातार मिल रही शिका.तों को देखते हुए चैरिटी कमिश्नर ने अब लालबाग के राजा मंडल पर सरकारी नियंत्रण लाने का फैसला किया है। चैरीटी कमिश्नर के इस फैसले के बाद अब उम्मीद है की लालबाग के राजा मंडल के कार्यकर्ताओ का गणेशोत्सव के दौरान होनेवाले हंगामा कम हो जाए।

प्रतिनिधी के सामने होगी दान में मिली रकम की गिनती
मंजल के खिलाफ प्राप्त शिकायतों को ध्यान में रखते हुए, चैरिटी आयुक्त ने बोर्ड पर सरकारी नियंत्रण लाने का फैसला किया है। इसके साथ ही चैरिटी आयुक्त द्वारा एक समिति गठित की जाएगी। लालबाग राजा द्वारा दान की गई नकदी और आभूषण की गिनती राशि चैरिटी आयुक्त के प्रतिनिधि के सामने की जाएगी।


सरकारी नियंत्रण
लालबाग के राजा के दर्शन के दौरान कई बार भक्तों के साथ मंडल के कार्यकर्ताओ की हाथापाई की शिकायतें चैरिटी आयुक्त को मिलती है। शिकायत के अनुसार, चैरिटी आयुक्त ने इसकी समीक्षा की और मंजल को सरकारी नियंत्रण में लाने की पहल की है।

पुलिस-कार्यकर्ताओ में भिडंत
लालबाग के राजा के दर्शन करने के लिए देश के कोने कोने से भक्त आते है। यही कारण है की लालबाग के राजा मंडल में लाखों भक्ती की भीड़ लगी रहती है। इसी साल मंडल में कार्यकर्ता ओर पुलिस की भिडंत हो गई थी, जिसे लेकर काफी हंगामा भी हुआ था।


यह भी पढ़े- लगातार हो रहे निर्माणकार्य की वजह से हो रही मुंबई की हवा खराब

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें