छोटे नालों के ठेके को ठेकेदारों ने नकारा

 CST
छोटे नालों के ठेके को ठेकेदारों ने नकारा

जी / उत्तर और एफ / उत्तर विभाग में ठेकेदार छोटे नालों की सफाई के ठेके को लेकर कोई भी खास रुची नहीं दिखा रहे हैं। बीएमसी ने इस बारे में 6 बार आवेदन भी मंगाए थे, लेकिन किसी भी ठेकेदार ने इसमें कोई खास रुचि नहीं दिखाई। जिसके बाद बीएमसी धारावी,माहिम,माटुंगा, एंटॉप हिल जैसे इलाकों में एनजीओं की ओर से नाले सफाई का काम करने का निर्णय लिया है। हालांकि, स्थाई समिति के सदस्यों को दृढ़ता से गैर सरकारी संगठनों की सफाई का विरोध किया।

यह भी पढ़े- नाला बनती नदी...

बीएमसी में विरोधी पक्षनेता रवि राजा ने कहा कि बीएमसी को एक भी ठेकेदार के आवेदन ना मिलने की बात लोगों के गले नहीं उतर रही। साथ ही विभाग के जल प्रमुख अभियंता और संचालक लक्ष्मण वटकर का कहना है कि इस विभाग में 7 से 8 नालों की सफाई के लिए आवेदन मंगाए गए थे। जिसमें किसी भी ठेकेदार ने कोई भी आवेदन नहीं भेजा।

बीएमसी में सपा गटनेता रईस शेख ने बीएमसी पर आरोप लगाया की वह धोखादायक जानकारी दे रही है। तो वहीं बीजेपी के अभिजित सामंत ने कहा की अगली बार से इसके लिए अक्टूबर से ही आवेदन निकाले जाए।

यह भी पढ़े- करोड़ों रूपये खर्च होने के बाद भी नाला सफाई का कार्य अधूरा

अभी तक 35 फीसदी नाले सफाई का कार्य पूरा 
29 अप्रैल 2017 तक शहर में नाले सफाई के कार्य को 35.64 फीसदी तक पूरा कर लिया गया है। जबकी पिछलें साल इसी समय तक सिर्फ 7.59 फीसदी ही कार्य पूरा हो सका था।

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

Loading Comments