Advertisement

धारावी में देश का पहला प्लाज्मा डोनेशन कैम्प


धारावी में देश का पहला प्लाज्मा डोनेशन कैम्प
SHARES

अब से कुछ महीनों पहले ही मुंबई (Mumbai) का धारावी(Dharavi) देश का सबसे बड़ा कोरोना केंद्र बना हुआ था।  हालांकि अब बीएमसी (BMC) ऑफिसर और प्रशासन  की लगातार कोशिशों के बाद अब धारावी में कोरोना मरीजों (Coronavirus) की संख्या धीरे-धीरे नियंत्रण में आ रही है।कोरोना का केंद्र बने धारावी(Dharavi)  में देश का पहला प्लाज्मा डोनेशन(Plasma donation camp) कैंप लगाया जा रहा है। इसकी शुरूआत पुलिसकर्मियों से की जा रही है। कोरोना को मात दे चुके जवानों की सोमवार-मंगलवार को स्क्रीनिंग की गई।

27 जुलाई को प्लाज्मा डोनेशन कैंप

अब सोमवार 27 जुलाई को प्लाज्मा डोनेशन कैंप लगाया जाएगा। इसके साथ ही अब आम लोगो की भी स्क्रीनिंग की जाएगी। सांसद राहुल शेवाले का कहना है कि कम से कम 500 लोगों का प्लाज्मा दान कराने का लक्ष्य रखा है। इनका प्लाज्मा कई कोरोना मरीजों को नया जीवनदान दे सकता है। हाल ही में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दुनिया की सबसे बड़ी प्लाज्मा थेरेपी ट्रायल सेंटर का उद्‌घाटन किया।

बीएमसी अस्पताल के डॉक्टर करेंगे काम

यह सेंटर नागपुर के गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज में बनाया गया है। अब धारावी में पहला प्लाज्मा डोनेशन कैंप लगाया जा रहा है।धारावी के कैंप में प्लाज्मा निकालने का काम बीएमसी के सायन, केईएम, नायर और कूपर अस्पताल के डॉक्टर करेंगे। 

यह भी पढ़ेआईटी कंपनियों में दिसंबर तक के लिए बढ़ा वर्क फ्रोम होम

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement