Advertisement

पानी की कटौती रहेगी जारी, बारिश से अभी तक 50 फीसदी पानी ही हुआ उपलब्ध

अभी हाल ही में अच्छी बारिश के कारण, कुछ दिनों पहले ही विहार लेक और तुलसी लेक ओवरफ्लो होकर बहने लगी हैं। महत्वपूर्ण बांध अपर वैतरणा, तानसा, मोदकसागर, मध्य वैतरणा और भातसा अभी नहीं भरी है।

पानी की कटौती रहेगी जारी, बारिश से अभी तक 50 फीसदी पानी ही हुआ उपलब्ध
SHARES


अगस्त महीने के पहले सप्ताह में हुई भारी बारिश के कारण मुंबई को पानी की आपूर्ति करने वाले बांधों में जल का स्तर लगभग 50 फीसदी तक पहुंच गया है। विशेष रूप से 48 घंटों में पानी में 1 लाख 8 हजार मिलियन लीटर (एमएलडी) की वृद्धि हुई है। जिसके परिणामस्वरूप बांध में पानी का भंडारण 7 लाख 8 हजार 153 मिलियन लीटर तक पहुंच गया है।

शहर में पानी की आपूर्ति करने वाली झीलों की क्षमता 14 लाख 47 हजार मिलियन लीटर है।  बांध को पूर्ण क्षमता से भरने के लिए अभी भी करीब 7.5 मिलियन लीटर पानी की आवश्यकता है, तभी मुंबई के नागरिकों को आराम से पूरे साल तक पानी की आपूर्ति की जा सकती है। इसलिए, जब तक इन बांधों को पूरी क्षमता से नहीं भरा जाता है, तब तक BMC द्वारा 20% पानी की कटौती जारी रहेगी।

आपको बता दें कि अभी हाल ही में अच्छी बारिश के कारण, कुछ दिनों पहले ही विहार लेक और तुलसी लेक ओवरफ्लो होकर बहने लगी हैं। महत्वपूर्ण बांध अपर वैतरणा, तानसा, मोदकसागर, मध्य वैतरणा और भातसा अभी नहीं भरी है। भातसा झील 51 प्रतिशत भरी हुई है।  इस झील की भंडारण क्षमता 3 लाख 65 हजार मिलियन लीटर है। इस झील से मुंबई को प्रतिदिन अधिकतम 1850 मिलियन लीटर पानी की आपूर्ति होती है। जबकि मोदक सागर 58 प्रतिशत और मध्य वैतरणा 50 प्रतिशत भर गई है। अपर वैतरणा और तानसा में क्रमशः 29 और 45 प्रतिशत जल भंडारण हो गया है।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय