नगरसेवकों की मांग, न वसूला जाए उनसे टोल

 Mumbai
नगरसेवकों की मांग, न वसूला जाए उनसे टोल

मुंबई के नगरसेवकों ने मांग की है कि उन्हें भी सांसदों और विधयाकों के जैसे पुरे राज्य भर में टोल माफ़ी की सुविधा मुहैया कराई जाए। मुंबई के नगरसेवक के लिए बांद्रा-वर्ली सी लिंक पर टोल माफ़ है।

मुंबई के अनेक नगरसेवक कई प्रोजेक्ट और कार्यों के संबंध में राज्यों का दौरा करते हैं। इसके लिए उनसे हर टोल नाके पर टोल वसूला जाता है, जबकि सांसदों और विधायकों के लिए कही भी टोल नहीं लगता। इसी को देखते हुए शिवसेना नगरसेवक तुकाराम पाटील ने बीएमसी में एक प्रस्ताव पेश कर मांग किया कि जिस तरह सांसदों और विधायकों को टोल माफ़ी की छुट मिलती है उसी तरह नगरसेवकों को भी इसकी छुट मिलनी चाहिए। यह प्रस्ताव बीएमसी सभागृह में पास हो गया है अब इसे राज्य सरकार के पास अगली कार्रवाई के लिए भेज दिया गया है।
नगरसेवक तुकाराम पाटिल ने कहा कि बीएमसी देश की सबसे बड़ी म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन है। इसका बजट कई छोटे देशों से भी अधिक का है। मुंबई में अनेक योजनाओं को लागू किया जाता है। मुंबई की 2 करोड़ जनता को मुलभुत सुविधा मिले इसके लिए नगरसेवको को चुना जाता हैं। कई बार कई चीजों का अध्ययन करने ये नगरसेवक मुंबई के बाहर भी जाते हैं वे राजनैतिक, सामाजिक, धर्मिक और आर्थिक सम्मेलनों में भाग भी लेते हैं. नगरसेवकों को सभी टोलनाकों पर टोल देना पड़ता है।

एयरपोर्ट टोल टैक्स हो रद्द – शिवसेना
शिवसेना के विधायक अनिल परब ने मांग की है कि छत्रपती शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट पर सभी वाहनों से वसूले जाने वाले 130 रुपए टोल को बंद किया जाए। यह टोल अवैध है इसे तुंरत बंद किया जाना चाहिए। परब ने जीवीके कम्पनी को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर कंपनी की तरफ से अवैध टोल वसूलना बंद नहीं किया गया तो शिवसेना अपने स्टाइल में आन्दोलन करेगी। 


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 

Loading Comments