एलफिंस्टन ब्रिज हादसे को एक साल पूरा , लोगों ने दी श्रद्धांजलि!

29 सितंबर 2017 को एलफिंस्टन रोड स्टेशन पर अफवाह फैलने से मची भगदड़ में करीब 23 लोगों की मौत हो गई थी।

SHARE

1 साल पहले 29 सितंबर 2017 को एलफिंस्टन रोड स्टेशन पर ब्रिज गिरने की अफवाह के कारण करीब 23 लोगों की मौत हो गई थी। एलफिंस्टन रोड स्टेशन पर हुए दर्दनाक हादसे को आज एक साल पूरा हो गया है। लोगों ने इस हादसे को याद करते हुए मारे गये लोगों को श्रद्धांजली दी।

भारतीय सेना ने बनाया नया फुट ओवर ब्रिज
एलफिंस्टन ब्रिज हादसे के पहले से ही कई लोगं ने सोशल मीडिया के माध्यम से रेल मंत्री को भविष्य में ऐसे हादसो के बारे में चेताया था, लेकिन रेल मंत्री और रेल अधिकारियों ने इस नासुना कर दिया था। एलफिन्स्टन हादसे के बाज नये फुट ओवर ब्रिज को बनाने के काम सेना को दिया गया। सेना ने बहुत ही कम समय में इस फुट ओवर ब्रिज को तैयार किया।

23 लोगों की मौत , 30 से ज्यादा घायल
परेल-एलफिंस्टन स्टेशन के पास बने पुल पर ज्यादा भीड़ की वजह से भगदड़ मच गई थी जिससे एक बड़ा हादसा हो गया था। हादसे में करीब 23 लोगों की मौत हो गई थी जबकि 30 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे।

फेरिवालों के स्टेशन के बाहर से हटाया
ब्रिज हादसे के बाद सरकार और बीएमसी ने मुंबई के सभी स्टेशनों के 50 फुट की सीमा के अंदर फेरिवालों को बैठने पर मनाही लगा दी थी। बीएमसी और सरकार ने इसके लिए बकायदा पुलिस अधिकारियों की भी मदद ली।

104 साल पुराना ब्रिज

एलफिंस्टन स्टेशन 1867 में बना था और यह फुटओवर ब्रिज 104 साल पुराना था। यह पुल तब की आबादी के हिसाब से बना था। अब आबादी कई गुना ज्यादा हो चुकी है, लेकिन पुल की चौड़ाई जस की तस है, सिर्फ एलफिंस्टन रोड ही नहीं मुंबई में ऐसे कई पुल हैं जो अभी भी संकरे हैं।

यह भी पढ़े- बिना इजाजत चुनावी रैली करने के आरोप में दिल्ली के सीएम को शिवड़ी कोर्ट ने किया बरी

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें