किर्ती व्यास हत्याकांड के आरोपी 31 मई तक न्यायिक हिरासत में


किर्ती व्यास हत्याकांड के आरोपी 31 मई तक न्यायिक हिरासत में
SHARES

किर्ती व्यास हत्या मामले की गुत्थी सुलझाने में जहां एक पुलिस को कामयाबी हासिल हुई है तो वही दूसरी ओर पुलिस को अभी तक किर्ती व्यास का मृत शरीर नही बरामद हुआ है। पुलिस ने इस मामले में गिरफ्तार किये किर्ती व्यास के दों सहकर्मी सिद्धेश ताम्हणकर और खुशी सेजवाणीला को कोर्ट में पेश किया , कोर्ट ने दोनों आरोपियों को 31 मई तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।


यह भी पढ़े- 'मैं निर्दोष हूं, मैंने किसी की हत्या नहीं की है'

पुलिस ने इस मामले में दोनों आरोपियों के हत्या के दिन पहने हुए कपड़ों को जांच के लिए भेज दिया है। हालांकी दोनों आरोपियों के परीवार वालों का कहना है की पुलिस ने जोर जबरदस्ती से दोनों से गुनाह कबूल करवाया है। सिद्धेश और खुशी के वकिल का कहना है इस मामले में दोनों आरोपियों के खिलाफ पुलिस के पास पुख्ता तौर पर कोई भी सबूत नहीं है।

यह भी पढ़े- पीएनबी घोटाले में सीबीआई ने दायर की चार्जशीट

आपको बता दें कि कीर्ति कई दिनों से गायब है। ख़ुशी की गाड़ी में कीर्ति के खून भी मिले थे। जब पुलिस ने इन्हे गिरफ्तार किया तो सिध्देश ने पुलिस को बताया कि उसने ही कीर्ति की हत्या कर उसकी लाश को माहुल नाले में फेंक दिया था, क्योंकि कीर्ति सिध्देश को नौकरी से निकालने का नोटिस दे चुकी थी और सिध्देश के कहने पर भी वह नोटिस वापस नहीं ले रही थी।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय