के.ई.एम अस्पताल में मरीज ने की आत्महत्या

भोईवाड़ा पुलिस ने कहा कि उसने इस घटना को असामयिक मृत्यु यानी ADR के रूप में दर्ज किया है और शाहजी के पिता का बयान दर्ज किया है।

के.ई.एम अस्पताल में मरीज ने की आत्महत्या
SHARES

परेल के केईएम अस्पताल (KEM Hospital) में इलाज करा रहे एक कैंसर रोगी ने बुधवार रात फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली।  मरीज का नाम शाहजी खरात (20) था। इस मामले में भोईवाड़ा पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है और पुलिस आगे की जांच कर रही है।

खरात अपने परिवार के साथ चेंबूर के न्यू भारत नगर इलाके में महालक्ष्मी वेलफेयर सोसाइटी में रहता था। खरात ब्लड कैंसर से पीड़ित था और उसका इलाज इनलैक्स अस्पताल में किया जा रहा था। जून महीने में खरात की तबियत जब और बिगड़ने लगी तो फिर उसे आगे के इलाज के लिए 23 जून को परेल के केईएम अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया। 

2 जुलाई को खरात नेे कोरोना टेस्ट भी करवाया।लेकिन उनकी वह रिपोर्ट निगेटिव आई।  इस बीच खरात का केईएम के वार्ड नंबर 11 में इलाज शुरू किया गया। लेकिन, 8 जुलाई को अपनी बीमारी से त्रस्त होकर खरात ने वार्ड में लगे लोहे के

एंगल में कपड़े का फांसी बना कर उसमें झूल गया।एक मरीज ने जब यह देखा तो उसने शोर मचाया, जिसके बाद अन्य लोग भी वहां जमा हो गए। खरात को फंदे से उतार कर डॉक्टर के पास ले जाया गया।लेकिन डॉक्टरों ने उसकी जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया।

कहा जाता है कि उन्होंने हताशा से यह कदम उठाया है। घटना की जानकारी मिलते ही भोईवाड़ा पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने कहा कि उसने इस घटना को असामयिक मृत्यु यानी ADR के रूप में दर्ज किया है और शाहजी के पिता का बयान दर्ज किया है।

संबंधित विषय