मुंबई विश्वविद्यालय की एक और लापरवाही , परीक्षा में बैठे छात्रों को बताया अनुपस्थित

परीक्षा में बैठे 9 छात्रों को विश्वविद्यालय ने परीक्षा में अनुपस्थित बताया है।

SHARE

मुंबई विश्वविद्यालय में परीक्षा से जुड़ी लापरवाही की खबरें अक्सर आती रहती है। लेकिन विश्वविद्यालय ने परीक्षा में उपस्थित छात्रों को ही अनुपस्थित करार दे दिया है। परीक्षा में बैठे 9 छात्रों को विश्वविद्यालय ने परीक्षा में अनुपस्थित बताया है। विश्वविद्यालय की इस लापरवाही के कारण छात्रों में काफी आक्रोश है।

गिरगांव के भवंस कॉलेज में यह 9 छात्र पढाई करते है। दिसंबर में इन सभी छात्रों ने बीएससी के पेपर-1 और पेपर-2 की एटीकेटी की परीक्षा दी थी। फरवरी में छात्रों को पता चला की परीक्षा में बैठने के बाद भी उन्हे अनुपस्थित बताया गया। छात्रों के साथ साथ परिजनों को भी ये बात सुनकर काफी धक्का लगा। छात्रों और परिजनों ने इस बात को विश्वविद्यालय के सामने उठाया।

विशेष रूप से, इन छात्रों ने परीक्षा के दौरान का टाइमटेबल और शिक्षकों के हस्ताक्षर वाले हॉल टिकट भी दिखाए। बच्चों ने आखिरकार राज्यपाल से मिलने का फैसला किया है क्योंकि न्याय के लिए विश्वविद्यालय की ओर से कोई कदम नहीं उठाया गया है

मुंबई विश्वविद्यालय के उपकुलसचिव विनोद मलाले का कहना है की इन छात्रों के परिणआम अभी तक जाहीर नहीं किये गए है। जिसके कारण अभी तक इनको नापास नहीं किया गया है ।संबंधित छात्रों ने बताया है कि वे परीक्षाएं मौजूद हैं। परिणामों की घोषणा की प्रक्रिया अभी भी जारी है।

यह भी पढ़े- PWD सिविल इंजीनियर एग्जाम: 5 मिनट देरी से पहुंचने पर 20 परीक्षार्थियों को एग्जाम देने की नहीं मिली अनुमति

संबंधित विषय