अभिनेता और लेखक गिरीश कर्नाड का निधन

वह पिछली काफी समय से बीमार चल रहे थे

SHARE
कन्नड़ भाषा के साथ साथ बॉलीवुड की कई फिल्मों में काम करनेवाले  अभिनेता और लेखक गिरीश कर्नाड का निधन हो गया है। वह पिछली काफी समय से बीमार चल रहे थे और उन्हें कई बार अस्पताल में भर्ती कराया गया था। गिरीश कार्नाड का जन्म 19 मई, 1938 को महाराष्ट्र के माथेरान में हुआ था।

1998 में ज्ञानपीठ सहित पद्मश्रीपद्मभूषण जैसे कई प्रतिष्ठित पुरस्कारों के विजेता कार्नाड द्वारा रचित तुगलक, हयवदन, तलेदंड, नागमंडल व ययाति जैसे नाटक अत्यंत लोकप्रिय हुये और भारत की अनेकों भाषाओं में इनका अनुवाद व मंचन हुआ है। एक कोंकणी भाषी परिवार में जन्में कार्नाड ने 1958 में धारवाड़ स्थित कर्नाटक विश्वविद्यालय से स्नातक उपाधि ली। इसके बाद  वे एक रोड्स स्कॉलर के रूप में इंग्लैंड चले गए जहां उन्होंने ऑक्सफोर्ड के लिंकॉन तथा मॅगडेलन महाविद्यालयों से दर्शनशास्त्र, राजनीतिशास्त्र तथा अर्थशास्त्र में स्नातकोत्तर की उपाधि प्राप्त की। 


गिरीश शिकागो विश्वविद्यालय के फुलब्राइट महाविद्यालय में विज़िटिंग प्रोफ़ेसर भी रहे। गिरिश सलमान खान की मशहूर फिल्म एक था टाईगर और टाईगर जिंदा है में भी अभिनय किया था।



संबंधित विषय
ताजा ख़बरें