• जानता हूं लोग मुझे दूसरे एक्टर्स से कंपेयर करते हैंः वरुण धवन
  • जानता हूं लोग मुझे दूसरे एक्टर्स से कंपेयर करते हैंः वरुण धवन
  • जानता हूं लोग मुझे दूसरे एक्टर्स से कंपेयर करते हैंः वरुण धवन
  • जानता हूं लोग मुझे दूसरे एक्टर्स से कंपेयर करते हैंः वरुण धवन
  • जानता हूं लोग मुझे दूसरे एक्टर्स से कंपेयर करते हैंः वरुण धवन
  • जानता हूं लोग मुझे दूसरे एक्टर्स से कंपेयर करते हैंः वरुण धवन
SHARE

करण जौहर की फिल्म स्टुडेंट ऑफ द ईयर से बॉलीवुड में डेब्यू करने वाले एक्टर वरुण धवन अक्सर कभी गोविंदा से तो कभी सलमान खान से कंपेयर किए जाते रहे हैं। पर वरुण को इससे कभी कोई फर्क नहीं पड़ा। लगातार उनकी फिल्में भी एक एक करके बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाती गई। उन्हें जितना आज की यंग जनरेशन पसंद करती है। उतना ही उन्हें बच्चे पसंद करते हैं। इसलिए वरुण स्क्रिप्ट को चुनते वक्त इसका खयाल रखते हैं। इस साल मार्च में वरुण की फिल्म बद्रीनाथ की दुल्हनिया रिलीज हुई, इसने भी सफलता के झंडे गाड़े और 100 करोड़ के क्लब में शामिल हुई। 

अब वरुण जुड़वा-2 लेकर आ रहे हैं। यह एक रोमेंटिक कॉमेडी फिल्म है जिसमें वे दो दो हीरोइन के साथ रोमांस करते नजर आएंगे। यह फिल्म 1997 की बहुचर्चित फिल्म जुड़वा का रीमेक है। जिसमें मुख्य किरदार में सलमान खान थे। जुड़वा-2 की रिलीज से पहले मुंबई लाइव ने वरुण धवन से खास मुलाकात की। जहां पर वरुण से फिल्म के अलावा उनसे जुड़े अन्य मुद्दों पर भी बात हुई।

 

सलमान की फिल्म होने के चलते बॉक्स ऑफिस कलेक्शन और परफॉर्मेंश को लेकर कितना प्रेशर?

निश्चत रूप से यह फिल्म सलमान भाई की है, और मेरे फादर (डेविड धवन) ने बनाई है। पर प्रेशर कुछ भी नहीं है हालांकि लोग प्रेशर दे रहे हैं, पर मैं नहीं ले रहा। मैंने सोचा है कि इस बार मैं प्रेशर लूंगा ही नहीं। मैं प्रेशर लेकर क्या करूंगा? मुझे जो करना था मैंने कर दिया है।  

 जुड़वा-2 का किरदार प्ले करना कितना मुश्किल?

मुश्किल तो होता ही है, क्योंकि जुड़वा को बने हुए 20 साल हो गए हैं। इसमें कंटेंट थोड़ा बहुत पुरानी जुड़वा का है और थोड़ा नया है। फिल्म के बनाने के पीछे का मकसद यही था कि लोगों का मनोरंजन हो। लोगों के चेहरे पे मुस्कान आए। लोग खुलकर हंस सकें। मैं आपको पहले ही बता दूं कि इस फिल्म में कोई सोशल मेसेज देने की कोशिश नहीं की गई है। यह फिल्म ऐसी है कि आप थिएटर में जाओ और एक स्माइल लेकर वापस आओ।

 फिल्म प्रमोशन को लेकर कोई स्ट्रेटजी?

हाल ही में परेश रावल जी ने बोला था कि नए एक्टर अपनी फिल्मों को इतना ज्यादा प्रमोट क्यों करते हैं। डर लगता है क्या उन लोगों को? इतना जाकर बोलते हैं देखो देखो देखो...अरे कंन्टेट अच्छा होगा तो लोग देखेंगे ही ना। तो मैंने इस बात को एक सलाह की तरह लिया है। इसलिए फिल्म जुड़वा-2 को ज्यादा प्रमोट नहीं कर रहा।

सलमान खान से जुड़वा-2 के लिए कुछ टिप्स मिले? 

नहीं मैंने कोई टिप्स नहीं लिए और वो देंगे भी नहीं। उन्होंने एकबार ये जरूर कहा था कि टन टना टन टनटनटारा के स्टेप्स सेम रखना। साथ ही उन्होंने मुझे एक बैग भेजा था जो जीन्स से भरा था। उन्होंने कहा था कि राजा यही जीन्स पहनेगा। तो फिल्म में आपको सलमान खान के ही जीन्स दिखाई देंगे।

तापसी पन्नू और जैकलीन के साथ काम करने का अनुभव

तापसी और जैकलीन दोनों बहुत ही अनुभवी एक्ट्रेस हैं। तापसी ने अक्षय कुमार सर और अमिताभ बच्चन जी जैसे स्टार के साथ में काम किया। साथ ही उन्होंने साउथ की फिल्मों में भी काम किया है। वहीं जैकलीन ने भी अक्षय और सलमान भाई जैसे बड़े स्टार के साथ काम किया। मैं जब भी फिल्म को लेकर टेंशन लेता था। वे मुझे बोलती थी एन्जॉय करो और मोटिवेट करती थी।

पहले भी 2 हीरोइन अब जुड़वा-2 में भी 2 हीरोइन मैनेज कैसे करते हैं?

दोनों (तापसी और जैकलीन) बहुत ही क्यूट हैं, बहुत स्वीट हैं। जैकलीन बहुत ही पॉजिटिव एक्ट्रेस हैं। और तापसी में काम करने की बहुत भूख है, उनका रहता है मैं ये भी कर सकती हूं वो भी कर सकती हूं। वैसे तो ज्यादातर एक-एक के साथ ही शूट किया है। पर जब भी एक साथ दोनों के साथ शूट किया तो उन्होंने बहुत मस्ती की।

राजा का कैरेक्टर प्ले करना आसान था या प्रेम का?

राजा मुंबई में पला बढ़ा है, जो मेरे लिए करना आसान था क्योंकि मैं भी मुंबई से हूं। पर प्रेम एक ऐसा कैरेक्टर है कि आज तक ना किसी ने किया होगा और नाही किसी ने देखा होगा। उसकी कॉमेडी भी बहुत अलग है नाकी सारियस टाइप।

 आपको अक्सर दूसरे एक्टर के साथ कंपेयर किया जाता है?

मैं जानता हूं कि मुझे दूसरे एक्टर से कंपेयर किया जाता है। पर मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।

 पिता डेविड के साथ काम करने का अनुभव?

निश्चित रुप से मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं कि मैं एक सफल डायरेक्टर का बेटा हूं। कई बार सेट पर हमारे बीच मतभेद भी होते हैं, वो मुझे डांट भी देते हैं। पर उनका अनुभव बहुत ज्यादा है, जब कोई सीन आसानी से नहीं कर पाता, वो उसे करने के लिए 10 आसान तरीके बता देते हैं। इन 2 फिल्मों में मुझे उनसे बहुत कुछ सीखने को मिला है।

कई बार आपका मराठी प्रेम दिखता है, मराठी फिल्में देखते हैं?

हां बिलकुल मराठी फिल्में देखता हूं। सशांक मेरे अच्छे दोस्त हैं। वे सैराट का रीमेक भी कर रहे हैं। मैंने वेंटिलेटर, नटसम्राट जैसी बहुत सी मराठी फिल्में देखी हैं। मैं मराठी कल्चर से काफी वाकिफ हूं। मराठी में मेरी एक फेवरेट लाइन है,  ‘माझा काय चूकला’ (मेरी क्या गलती है) है। मैं भविष्य में निश्चित रूप से मराठी फिल्मों में काम करना चाहूंगा।   

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें