शहीदों की शहादत का अपमान

 Pali Hill
शहीदों की शहादत का अपमान
शहीदों की शहादत का अपमान
See all

मुंबई- उरी हमले के बाद पाकिस्तानी कलाकारों को बैन करने के मुद्दे पर भारत में बहस जारी है। एक चैनल के डिबेट कार्यक्रम में कला और सीमा पर तनाव जैसे मुद्दों को अलग रखने की वकालत करते हुए दिग्गज अभिनेता ओम पुरी ने शहीद जवानों की शहादत से संबंध में विवादास्पद बयान दे दिया। जब उनसे उरी हमले में शहीद हुए जवानों के बारे में पूछा गया तब उन्होंने कहा- 'तो हमने उनसे कहा था क्या कि फोर्स में जाएं?' उन्होंने आगे कहा, '15-20 लोगों को तैयार करें जो शरीर पर बम बांधकर पाकिस्तान जाएं और वहां सब तोड़फोड़ कर दें' उन्होंने कहा कि भारत और पाकिस्तान को इजरायल और फिलिस्तीन न बनाएं। उन्होंने कहा कि देश के कई लोगों के परिवार पाकिस्तान में और वहां के कई लोगों के परिवार यहां रहते हैं। ऐसे में जंग की बात करने की बजाए सुलह के रास्ते तलाशने चाहिए। उन्होंने बताया कि उनके पिता भी फौज में थे। इससे पहले ओम पुरी ने कहा था कि राजनीति और कला को अलग रखना चाहिए, कलाकारों को बैन करने से दोनों देशों के बीच के हालात नहीं बदलेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि कलाकार गैर कानूनी तरीके से भारत नहीं आते हैं, इसलिए उन्हें परेशान नहीं किया जाना चाहिए। बाद में उनके बयान के तूल पकड़ने पर उन्होंने अपने बयान पर मांफी भी मांग ली।

Loading Comments