पेपर पर खाने से हो सकता है कैंसर

    मुंबई  -  

    मुंबई - सड़क के किनारे बिकने वाले गर्मागर्म वड़ापाव और समोसे या फिर भजिया को देख कर किसके मुंह में पानी नहीं आएगा, लेकिन अगली बार जब आप खाने जाएं तो पहले यह चेक कर लें कि बेचने वाला आपको प्लेट में दे रहा है फिर समाचार पेपर में। अगर पेपर में दे रहा है तो सावधान हो जाइए, क्योंकि पेपर में खाद्य पदार्थों को खाने से आपको कैंसर हो सकता है। जानकारी के अभाव में आपको यह जानकारी एक बार जरुर चौंका सकती है लेकिन है यह सौ फीसदी सच। यही नहीं भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने भी इस बात की पुष्टि की है कि पेपर पर खाद्य वस्तुओं के खाने से उसकी स्याही भी पेट में जाती है जिससे कैंसर होने की संभावना बढ़ जाती है। एफएसएसएआई के अनुसार समाचार पत्र में लगी स्याही से खाद्य पदार्थ दूषित हो जाते हैं। इस स्याही में पिगमेंट,वाईंडर्स जैसे हानिकारक केमिकल होते हैं जिससे कैंसर होने की आशंका रहती है। इसीलिए एफएसएसएआई ने भी खाद्यवस्तुओं को पेपर में खाने पर प्रतिबन्ध लगाया हुआ है। इस संदर्भ में केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने भी सख्ती दिखाते हुए कानून बनाया था लेकिन उस कानून का कड़ाई से पालन नहीं हुआ। जागरूकता के आभाव में आम लोगों को भी इसकी जानकरी नहीं है। इसका फायदा दुकानदार भी उठता है और लोग धड़ल्ले से पेपर में खाद्य वस्तुओं को खाते हैं।

    Loading Comments

    संबंधित ख़बरें

    © 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.