मिशन इंद्रधनुष, बच्चों का होगा टीकाकरण

 Mumbai
मिशन इंद्रधनुष, बच्चों का होगा टीकाकरण

बच्चों के सार्वभौमिक टीकाकरण सुनिश्चित करने के लिए बृहन्मुंबई महानगर पालिका  (बीएमसी) ने निर्माण स्थलों, मलीन बस्तियों, पृथक इलाकों में बच्चों की पहचान करने और हर साल शहर में जाने वाले लोगों की पहचान करने के लिए केंद्र सरकार के अंतर्गत के तहत मिशन इंद्रधनुष को शुरू किया है।

अप्रैल में 9,620 बच्चों की पहचान की गई थी, जिन्होंने पोलियो, खसरा, हेपेटाइटिस बी, बैसिलस कैल्मेटे गुरिन (बीसीजी), डिप्थेरिया, कपट, खांसी, टेटनस, कण्ठ और रूबेला या अपूर्ण टीकाकरण के लिए टीकाकरण नहीं किया था। 9620 बच्चों में से 6,355 बच्चों को अभी तक टीकाकरण का कार्य किया गया है। यह संख्या वर्तमान में 8,2565 है, जिसमें लगभग 5,000 नए सिरे से पहचाने जाने वाले मामलों और शेष 3,275 बच्चे शामिल हैं।

यह भी पढ़े- बीएमसी लगवाएगी बच्चों को मुफ्त टाइफाइड के टीके

बीएमसी का मिशन जुलाई तक जारी रहेगा ताकि ऐसे बच्चों की पहचान की जा सके। यह मिशन केंद्र सरकार ने 2014 में शुरु किया था, जिसमें 2020 तक बच्चों को 100 प्रतिशत प्रतिरक्षण के लिए कवरेज प्रदान करने का लक्ष्य है।

बीएमसी ने बच्चों के टीकाकरण के लिए 564 स्थलों की पहचान की है। जहां पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से मंगलवार और शनिवार को नियमित टीकाकरण प्रदान किया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी जुलाई तक घर-घर जाकर पांच साल से कम उम्र के बच्चों को ये टीका लगाएंगे।

यह भी पढ़े- घाटकोपर में आवारा कुत्तों का आतंक

2015 में इस मिशन के तहत 10,907 बच्चों का टीकाकरण किया गया था तो वहीं 2016 में 12,139 बच्चों को वैक्सीन दिया गया। मिशन इंद्रधनुष के तहत पहला टीका जन्म के समय दिया जाता है। बाद में कुछ हफ्तों के अंतराल पर कई खुराक देने होते हैं।

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 


Loading Comments